जमशेदपुर : बॉलीवुडअभिनेत्री शिल्पा शेट्टी योग और फिटनेस को लेकर काफी एक्टिव रहती है। 45 साल के बाद भी वह इतना फिट रहती है कि 20 साल के युवा को मात दे दें। सोनारी की योगा व रेकी एक्सपर्ट पूनम वर्मा कहती है, अगर महिलाएं चाहे तो 45 साल के बाद भी फिट रहा जा ससता है। पूनम वर्मा सभी को इन चार योगासनों के साथ में करने की सलाह दी है, जिससे लोग फिट व स्व्स्थ रहेंगे।

धनुरासन करने से रीढ़ की हड्डी होती है मजबूत

शिल्पा ने विपरीत शलभासन, अर्ध शलभासन, धनुरासन और बालासन करती हैं। उन्होंने इन चारों योगासनों के रूटीन को करने का खास फायदा भी बताया। पूनम वर्मा के मुताबिक इन चारों योगासनों के रूटीन को करने से कमर रीढ़ की हड्डी स्ट्रेच होती है। वहीं कंधी व गर्दन को मजबूती मिलने के साथ पाचन सुधरता है और जांघ व कूल्हों की मसल्स को भी मजबूती मिलती है।

1. विपरीत शलभासन के फायदे: विपरीत शलभासन करने से छाती, कंधे, हाथ, पेट की मसल्स मजबूत बनती है। इसके साथ ही शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और पेट का अच्छा व्यायाम हो जाता है।

2. अर्ध शलभासन के फायदे: अर्ध शलभासन करने से पेल्विक क्ष्रेत्र, कूल्हों और कमर के निचले हिस्से को फायदा मिलता है। इससे लोअर बैक मजबूत होती है। पेल्विक एरिया से तनाव हटता है और उसकी मसाज होती है। साथ ही कूल्हों की मसल्स टोन होती है।

3. धनुरासन के फायदे : धनुरासन थकावट को दूर करने वाला योग है। साथ ही यह शरीर को पोस्चर सुधारने में भी मदद करता है। अगर किसी को हमेशा कम दर्द की शिकायत रहती है तो वो भी धनुरासन करके राहत प्राप्त कर सकता है। वहीं पेट, छाती, कंधे, कूल्हों का आगे वाली मसल्स जांघ की आगे वाली मसल्स भी स्ट्रेच होती है।

4.बालासन के फायदे : बालासन करने से भी कमर और गर्दन की मसल्स रिलैक्स होती है और अकड़न से राहत प्राप्त होती है। बालासन आपके दिमाग को शांत करने और शरीरिक थकावट दूर करने में मदद करता है।

Edited By: Jitendra Singh