जमशेदपुर (जासं)। भुइंयाडीह में 29 अप्रैल की रात हुए गैंगवार मामले में सीतारामडेरा पुलिस ने कल्लू राय के सहयोगी गोलमुरी टुइलाडूंगरी के बिल्डर तैयब खान उर्फ रिंकू खान, फिरोज आलम उर्फ लड्डन, शाहिल आदिल, मानगो कुमरूम बस्ती के विपिन शर्मा और कदमा भाटिया बस्ती के राजीव राम को रविवार देर रात नौ बजे घाघीडीह सेंट्रल जेल भेज दिया।

सभी को शनिवार को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। आरोपित ¨रकू खान और लड्डन खान का हल्दीपोखर कोवाली में क्रशर है। इस धंधे में सुधीर दुबे और कल्लू राय पार्टनर हैं। क्रशर से जुड़ जाने के कारण ¨रकू और लड्डन का रूतबा बढ़ गया था। दोनों अपराधियों को संरक्षण देते थे। हथियार और वाहन उपलब्ध कराते थे। गौरतलब है कि भुइंयाडीह नीतिबाग कॉलोनी के चंद्रावती टावर के पास अखिलेश सिंह गिरोह से अलग हुए सुधीर दुबे के सहयोगी कल्लू राय, राजीव राम, नरायण ठाकुर, अजय राय उर्फ अप्पू, पंकज दुबे, गुरुदयाल सिंह उर्फ राजा सिंह और अनुराग कुमार गौतम उर्फ अन्नू को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। एक मई को पुलिस ने सभी को जेल भेजा था। राजा सिंह को छोड़कर सभी बिहार के बक्सर जिले के निवासी हैं।

राइफल, पिस्टल और कारतूस बरामद

पुलिस ने जेल भेजने से पहले आरोपितों की निशानदेही पर राइफल, पिस्टल, 12 बोर की 28 और पिस्टल की नौ कारतूस बरामद कर लिया है। रिंकू खान को कल्लू राय ने राइफल दिया था। रिंकू खान के घर से राइफल और शाहिल आदिल की घर से पिस्तौल व कारतूस बरामद किया। आदिल साकची फुटपाथी दुकानदारों का नेता भी है। सभी सफेदपोश हैं। अपराधियों के बूते अपना हित साध रहे थे। प्रतिद्वंद्वियों पर दबंगता दिखाते थे। गिरोह के पास से दो स्कार्पियो भी जब्त की गई है। इनमें एक बिना नंबर की है।

राजीव राम का अखिलेश और सुधीर गैंग दोनों से जुड़ाव

 राजीव राम का घर कदमा और आदित्यपुर में है। वह बहुत शातिर है। अखिलेश सिंह और सुधीर दुबे दोनों गैंग से उसका जुड़ाव है। कुछ माह से वह सुधीर दुबे के साथ पूर्ण रूप से जुड़ गया था। वह आजसू पार्टी से भी जुड़ा रहा है। विपिन शर्मा ने छुपाया था ¨रकू और लड्डन को : पुलिस के अनुसार, विपिन शर्मा ने ¨रकू खान और लड्डन को अपने घर में छुपाया था। विपिन शर्मा युवा कांग्रेस नेता राशिद खान की हत्या में भी आरोपित रहा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस