जमशेदपुर, जेएनएन। Disput Between CAA Supporters and opponents in Jamshedpur Jharkhand झारखंड के जमशेदपुर में गुरुवार को उस समय बवाल मच गया जब नागरिकता संशोधन कानून (सीएए ) के विरोधी और समर्थक आमने-सामने हो गए। इस दौरान एक युवक की पिटाई भी हो गई। हालात को संभालने में पुलिस को मशक्‍कत करनी पड़ी।

हुआ यूं कि  साकची के आमबगान मैदान में देश बचाओ-संविधान बचाओ समिति ने धरना की अनुमति  प्रशासन से मांगी थी। प्रशासन ने अनुमति नहीं दी। प्रशासन ने शुक्रवार को डीसी आफिस के पास धरना की अनुमति दी जिसमें बिहार की पूर्व सांसद रंजीता रंजन को भी शामिल होना है। धरना की अनुमति नहीं मिलने के बाद भी गुरुवार को  समिति के लोग यह कह कर आमबगान मैदान पहुंच गए कि  कुछ लोगों को यह जानकारी नहीं दे पाए हैं कि धरना की अनुमति नहीं मिली है। इसलिए मैदान में सिर्फ मौजूद रहेंगे और धरना - प्रदर्शन नहीं करेंगे। लोगों को बताया जाएगा कि आज धरना नहीं हो रहा है ऐसे में वापस लौट जाइए। इसी क्रम में सीएए के समर्थक एक संगठन के लोग भी मैदान में पहुंच गए  और नारेबाजी करने लगे। फ‍िर तो   बवाल शुरू हो गया। हालांकि, पुलिस-प्रशासन ने दोनों पक्षों को शांत कर आमबगान को खाली कराया।

युवक की पिटाई, पुलिस बल तैनात

संविधान बचाओ मोर्चा और सीएए समर्थक खेमे के बीच चल रही जोर-आजमाइश के दौरान  एक युवक की पिटाई हो गई। इस युवक ने सवाल  उठाए क‍ि पुलिस जब सीएए का विरोध करने वालों को हटा चुकी है तो सीएए समर्थकों को क्यों नहीं हटाया जा रहा। इतना सुनते ही सीएए समर्थक गुस्से में आ गए और युवक  को रोक लिया। आरोप है क‍ि युवक की पिटाई की जाने लगी। हालांकि, पुलिस टीम सूचना मिलते ही तत्‍काल पहुंची और युवक  को चंगुल से छुड़ाकर साकची थाना लेकर चली गई। इसके बाद पुलिस ने आमबगान मैदान को खाली करा लिया। मैदान में पुलिस तैनात कर दी गई है। 


लोगों को आमबगान मैदान से बाहर करती पुलिस। 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस