धालभूमगढ़ (पूर्वी सिंहभूम)। श्यामसुंदरपुर थाना अंतर्गत एनएच 18 पर पुकुरिया के पास आज देर शाम को एक ट्रैक्टर एवं मोटरसाइकिल की भिड़ंत में बाइक सवार की मौत हो गई। सूचना मिलने के बाद 108 एंबुलेंस से मृतक दिनेश महतो को धालभूमगढ़ सीएचसी लाया गया।

यहां चिकित्सा प्रभारी डॉ अखोरी ज्ञानेंद्र प्रसाद ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। डॉक्टर अखोरी ने बताया कि सिर में गहरी चोट के कारण उसकी मौत हो गई । मृतक दिनेश कुमार महतो धालभूमगढ़ थाना के बामनीसोल गांव निवासी आशुतोष महतो का पुत्र था । घटना की सूचना मिलते ही काफी संख्या में दिनेश के साथी एवं ग्रामीण जुट गए। सूचना मिलने के बाद श्यामसुंदरपुर थाना के प्रशिक्षु थाना प्रभारी सुमित कुमार एवं सहायक अवर निरीक्षक राम आशीष ठाकुर पहुंचे ।

शव ले जाने को लेकर हंगामा करते स्‍थानीय लोग

शव ले जाने को लेकर हुआ हंगामा

जब शव को थाना ले जाने की बात आई तो मृतक के साथियों एवं ग्रामीणों की मांग थी की लाश को 108 एंबुलेंस से थाना भेजा जाए। जबकि चिकित्सा प्रभारी एवं पुलिस का कहना था कि 108 एंबुलेंस का उपयोग लाश ले जाने के लिए नहीं किया जाता है । इसके लिए निजी एंबुलेंस या पिकअप वैन मंगवाया जाएगा । इस पर ग्रामीण एवं मृतक के युवा साथी आक्रोशित हो गए और अस्पताल में जमकर हंगामा हुआ। चिकित्सा प्रभारी को युवकों एवं ग्रामीणों ने घेर लिया तथा कहा की सरकारी एंबुलेंस जनता के काम नहीं आएगी तो इसको रख कर क्या फायदा। मौके पर पहुंची जिला पार्षद आरती सामाद ने भी युवकों को समझाने की कोशिश की लेकिन उनके साथ भी काफी बक झक हुई। मामला बढ़ता देख धालभूमगढ़ थाना को खबर दी गई वहां से स अ नि ओम शरण योगेश सिंह एवं हराधन मरांडी पुलिस बल के साथ पहुंचे। पुलिस के साथ भी युवकों की काफी देर तक तू तू मैं मैं एवं शोर-शराबा होते रहा ।

पुलिस के साथ हाथापाई की नौबत

एक समय तो स्थिति इतनी बिगड़ गई थी कि पुलिस से हाथापाई होने की नौबत आ गई थी लेकिन बाद में पुलिस ने मामले को संभाल लिया । इस बीच चिकित्सा प्रभारी ने अस्पताल की एंबुलेंस से शव को थाना भेजने का निर्देश दिया । शव को एंबुलेंस में लाद लिया गया था लेकिन ग्रामीण एवं मृतक के साथी हर हाल में 108 एंबुलेंस से ही थाना ले जाने की जिद पर अड़े रहे । अंततः मामले को बढ़ता देख चिकित्सा प्रभारी ने 108 एंबुलेंस से शव को श्यामसुंदरपुर थाना भिजवाया। मृतक के पिता आशुतोष महतो ने बताया कि दिनेश जेसीबी भाड़े में लेकर काम करता था संभवत है उसका तगादा करने गया होगा इसी समय यह दुर्घटना हुई । दिनेश के घर में उसकी पत्नी एवं एक बेटी है । घटना से पूरे परिवार में मातम छा गया है ।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस