जासं, जमशेदपुर : नक्सली बंद व पिछले दिनों सोनुवा-लोटापहाड़ के बीच रेलवे ट्रैक पर हुए बम विस्फोट के बाद चक्रधरपुर मंडल में कोरस कमांडो की एक कंपनी को तैनात किया गया है जो पिछले दिनों उत्तरी भारत से यहां बुलाई गई है। कोरस कमांडो रेल मंत्रालय की कमांडो है जो ट्रेन रेस्क्यू में तत्पर रहती है। कोरस कमांडो की एक कंपनी में लगभग 110 जवान तैनात हैं। 27 नवंबर को नक्सली संगठनों ने गढ़चिरौली में हुई घटना के विरोध में भारत बंद का आहवान किया है। ऐसे में कोरस कमांडों के साथ-साथ रेलवे प्रोटेक्शन स्पेशल फोर्स (आरपीएसएफ) और रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) की टीम को सक्रिय किया गया है।

नक्सल प्रभावित क्षेत्र में की जा रही है पेट्रोलिंग

चक्रधरपुर मंडल में हावड़ा-मुंबई रूट में लोटापहाड़, सोनुवा, टुनिया, गोइलकेरा और पोसेता जैसे स्टेशन नक्सल प्रभावित क्षेत्र है। नक्सली बंदी को लेकर प्रोटेक्शन टीम को पूरी तरह से सक्रिय किया गया है। साथ ही सभी पैसेंजर ट्रेनों के आगे लाइट इंजन को चलाया जा रहा है। इसके अलावा प्रोटेक्शन टीम रात नौ से सुबह छह बजे तक नाइट पेट्रेालिंग भी कर रही है ताकि किसी तरह की नक्सली गतिविधि को रोका जा सके।

Edited By: Rakesh Ranjan