जमशेदपुर, जांस। टाटा मोटर्स अस्पताल में कोरोना संकट के बीच मरीजों की सेवा कर रहे दर्जनों चिकित्सकों के साथ कई अस्पताल कर्मचारियों को सम्मानित किया जाएगा। डाक्टर्स डे के मौके पर टाटा मोटर्स के प्लांट हेड विशाल बादशाह दोपहर बाद अस्पताल पहुंचकर यहां कोरोना योद्धाओं को सम्मनित करेंगे।

उधर, डाक्टर्स डे के अवसर पर टेल्को क्षेत्र के स्कूली बच्चों से टाटा मोटर्स अस्पताल के चिकित्सक रूबरू होंगे। बुधवार को ऑनलाइन स्कूली बच्चों को कोरोना से बचने के उपाय बताए जाएंगे। इसे लेकर टेल्को क्षेत्र के लिटिल फ्लावर स्कूल, विद्या भारती चिन्मया स्कूल, शिक्षा निकेतन, गुलमोहर स्कूल आदि विद्यालयों के बच्चों को लिंक उपलब्ध कराया गया है जो सीधे टाटा मोटर्स अस्पताल के डाक्टर्स से बातचीत करेंगे तथा उनकी बातों को ध्यान से सुनेंगे। पहली बार डॉक्टर्स डे के मौके पर बच्चों को चिकित्सकों की भूमिका व उनके कर्तब्यों के बारे में बताया जाएगा। साथ ही मेडिकल क्षेत्र में बच्चों को भविष्य संवारने से लेकर उन्हें कोरोना से बचने के उपाय बतायेंगे।

टाटा मोटर्स  भी कोरोना से जंग में निभा रही खास भूमिका

टाटा मोटर्स भी कोरोना से जंग में खास भूमिका निभा रही है। टाटा मोटर्स अस्‍पताल ने कोरोना मरीजों के लिए वार्ड बनाया है। यहां कोरोना मरीजों का इलाज किया जाता है। अच्‍छी बात यह है कि टाटा मोटर्स अस्पताल में कोरोना मरीजों के ठीक होने का दर सौ फीसद है। इस अस्पताल में अब तक 31 पॉजिटिव कोरोना मरीज इलाज के लिए पहुंचे जिनमें 21 ठीक होकर जा चुके हैं जबकि 10 इलाजरत हैं।  हॉस्पिटल के हेड डॉ संजय कुमार ने बताया कि दो मरीजों को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी। इनमें एक 67 वर्षीय मरीज मधुमेह के पीड़ित थे। इन दो के अलावा एक मरीज को एंटीबायोटिक की जरूरत पड़ी। अधिकांश ठीक होने वाले मरीजों के उम्र 18 से 30 वर्ष की थी। उन्होंने कहा कि अधिकांश मरीजों में कोरोना के कोई लक्षण थे जबकि कुछ को आंशिक लक्षण थे।

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस