संवाद सूत्र, मुसाबनी : लॉकडाउन का कड़ाई से पालन के साथ कोरोना वायरस से निपटने शासन-प्रशासन के साथ पुलिस व स्वास्थ्य महकमा दिन-रात एक किए हुए है। इसी बीच कोरोना से गांव को बचाने के लिए ग्रामीणों ने भी सामूहिक संकल्प लेते हुए हाथों में लाठी उठा ली है और सुबह से लेकर देर रात अपने गांव की सरहद पर पहरेदारी कर रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि बाहर से आने वाले हर व्यक्ति के बारे में पहले पुलिस को जानकारी दी जाती है। जांच के बाद ही उसे प्रवेश की अनुमति है। कोरोना से बचाने के लिए लाटिया व जामशोल के ग्रामीणों ने गांव कि सीमा को सील कर दिया गया है। इसके अलावा मुसाबनी प्रखंड के कई गांवों में बाहर से आने वाले लोगों के लिए नो एंट्री का बोर्ड लगा दिया गया है। लटिया गांव में ग्रामीणों ने स्वेच्छा से पूरे गांव को सील कर लिया है। जिला परिषद सदस्य ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए पूरा गांव सील किया गया है। बाहर का कोई व्यक्ति गांव में प्रवेश न करे, इसके लिए यह एहतियात बरता जा रहा है। इसमें सभी ग्रामीण सहयोग कर रहे हैं और पूरा गांव सरकार की गाइडलाइन का अनुपालन कर कोरोना महामारी से निपटने के लिए तत्पर है।

घाटशिला में सब्जी दुकानदारों को पढ़ाया सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ

लॉकडाउन लागू होने के बाद भी लोग सोशल डिस्टेंसिग पर अमल नहीं कर रहे हैं। खासकर सब्जी बाजारों में लोगों की भीड़ जुट रही। इसे ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने लॉकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिग का पूर्ण रूप से पालन कराने के लिए शहर के इंदिरा मार्केट सब्जी बाजार में शनिवार को दुकानों को तीन फीट से अधिक दूरी पर लगाने का निर्देश दिया। साथ ही सब्जी विक्रेताओं को बारी बारी से सब्जी देने तथा सामाजिक दूरता का पूर्ण रूप से पालन करने का हिदायत दी। ज्ञात हो कि सब्जी दुकानदार मुख्य बाजार के सड़क किनारे सब्जी बेचते हैं। इससे भीड़ जुट जाती है। इसे देखते हुए यह कदम प्रशासन की ओर से उठाया गया।

ओडिशा में फंसे घाटशिला के 11 श्रमिक

ओडिशा राज्य के खुर्दा •िाला में घाटशिला प्रखंड के 11 मजदूर फंसे है। इनमें से 10 मजदूर घाटशिला प्रखंड के दामपाड़ा क्षेत्र के एवं 1 मजदूर गुड़ाबंधा प्रखंड का है। सभी मजदूर लॉकडाउन के कारण खाने-पीने की समस्या से जूझ रहे है। ग्रामीणों ने •िाला परिषद सदस्य देवयानी मुर्मू से मदद के लिए गुहार लगाई है। बांकी पंचायत अंतर्गत पुखुरिया गांव के दांदू मुर्मू, सुनाराम हांसदा, सोमाय टुडू, लेदा गांव के चैतन्य टुडू, हेमकुमार हांसदा, दाशमत टुडू, राजेश मुर्मू, बांकीडीह के गालूराम हांसदा, पीटाती के लछु मंडी, अर्जुनबेड़ा के बिक्रम हेम्ब्रम ओडिशा के खुर्दा •िाला अंतर्गत जतनी प्रखंड के पातरापड़ा वृद्धाश्रम में फंसे है। जिला परिषद सदस्य देवयानी मुर्मू ने सभी मजदूरों के संबंध में तुरंत आवश्यक कार्रवाई करने का आग्रह •िाला प्रशासन से किया है। बताया है कि कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए दूसरे राज्य से आने वाले लोगों पर विशेष नजर रखी जा रही है। क्वारंटाइन केंद्र में रह रहे लोगों को सरकार के दिशा निर्देश का सख्ती से पालन कराना जरुरी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस