जमशेदपुर, जासं। टाटा मुख्य अस्पताल में इलाजरत झारखंड के पूर्व मंत्री व टुंडी के विधायक मथुरा महतो की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। चिकित्सकों ने मंगलवार को जांच के लिए उनका स्वाब लिया था। बुधवार को जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। टाटा मुख्य अस्पताल में उनका इलाज 14 जुलाई से चल रहा है। रिपोर्ट मिलने के बाद बुधवार की शाम 22 दिनों के बाद उनको अस्पताल से छुट्टी मिलने की संभावना है।

सात जुलाई को कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उन्हें धनबाद के अस्पताल में दाखिल कराया गया था। उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने पर 14 जुलाई रात बेहतर इलाज के लिए टाटा मुख्य अस्पताल लाया गया था। यहां पहुंचने के बाद उनका दोबारा कोरोना जांच की गई, जिसमें रिपोर्ट पॉजिटिव निकली थी। इलाज के बाद उनकी हालत में लगातार सुधार हो ररहा है। टीएमएच में उनका चार बार कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव निकला था। हालांकि जमशेदपुर लाए जाने के बाद उनकी तबीयत में तेजी से सुधार हो रहा है। टाटा मुख्य अस्पताल के वरीय चिकित्सक उनकी तबीयत पर लगातार नजर बनाए हुए थे। उन्हें टीएमएच के विशेष कोविड वार्ड में रखा गया है।

परिजन और शुभचिंतक खुश 

पूर्व मंत्री मथुरा महतो के पुत्र दिनेश महतो ने बताया कि बुधवार को चिकित्सकों ने उन्हें बताया कि उनके पिता की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। उन्हें शाम तक छुट्टी मिल सकती है। उन्होंने बताया कि उनके पिता अस्पताल में हैं और बाहर परिवार के सदस्य और शुभचिंतकों का जमावड़ा। ना कोई मिल पा रहा है और न ही बातचीत कर पा रहा है। उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए सभी दिनभर बेचैन रहते थे। फिलहाल विधायक मथुरा महतो के पुत्र दिनेश महतो के अलावा उनके कई रिश्तेदार जमशेदपुर में डेरा डाले हुए हैं। जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद सभी चेहरे पर खुशी झलक रही है।

सदी, खांसी व बुखार की शिकायत

सात जुलाई को विधायक ने सर्दी, खांसी और बुखार होने की शिकायत के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उनके घर जाकर कोरोना जांच के लिए स्वाब का सैंपल लिया था। जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया था। इलाज के दौरान तबीयत बिगड़ने के बाद पिछले मंगलवार 14 जुलाई को उन्हें टीएमएच लाया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी तबीयत में तेजी से सुधार हो रहा था।

तीन जुलाई को सीएम से मिले थे मथुरा

विधायक मथुरा महतो ने तीन जुलाई को एक प्रतिनिधिमंडल के साथ रांची में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात की थी। इनके कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी खुद क्वारंटाइन हो गए थे। इसके बाद उन्होंने भी अपनी जांच कराई थी। उनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021