जमशेदपुर, जासं। कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ते ही एक बार फिर से जिला सर्विलांस विभाग के फोन घनघनाने लगे हैं। इस दौरान लोगों द्वारा कई तरह के सवाल पूछें जा रहे हैं। लोगों का सवाल है कि क्या यह चौथी लहर का संकेत है? इस बार किस तरह के लक्षण सामने आ रहे हैं। अगर लक्षण मिले तो कहां जांच कराएं।कहां भर्ती की सुविधाएं है। बच्चों पर क्या इस बार अधिक खतरा है। सोमवार को इन सभी सवालों का जवाब जिला सर्विलांस पदाधिकारी डा. साहिर पाल ने एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर दी। दरअसल, पहली व दूसरी लहर के दौरान विभाग की तरफ से हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए थे। अब उसी नंबर पर लोग फोन कर पूछने लगे हैं।

सवाल-क्या चौथी लहर आ गई है।

जवाब-चौथी लहर आई है या नहीं यह तो केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से स्पष्ट किया जाएगा लेकिन मरीजों की बढ़ती संख्या चिंताजनक है। हर लोगों को सतर्क होने की जरूरत है। कोरोना का वायरस तेजी से फैलता है। इसलिए थोड़ा भी लापरवाही नहीं बरते। दूसरे राज्यों से आते हैं और किसी तरह के लक्षण दिखे तो उसकी जांच कराएं।

सवाल-जांच कहां-कहां हो रही है।

जवाब-कोरोना की जांच फिलहाल साकची जेल चौक स्थित कोविड जांच सेंटर व सदर अस्पताल में हो रही है। हालांकि, जल्द ही सेंटर बढ़ाए जाएंगे। ताकि लोगों को किसी तरह की परेशानी नहीं हो।

सवाल-अभी कोरोना के जो मरीज सामने आ रहे हैं उसके लक्षण क्या है।

जवाब-लक्षण पूर्व की तरह ही हैं। इसमें सिर दर्द, बुखार, हेडेक, तनाव, नींद के पैटर्न में बदलाव, भूख नहीं लगना, खाना खाने का मन नहीं करना, पेट खराब होना, कब्ज होना, थकान, गला खराब होना, खांसी होना, लगातार नाक बहना, शरीर में दर्द सहित अन्य शामिल हैं।

सवाल-बच्चों पर क्या इस बार अधिक खतरा है।

जवाब-पूर्वी सिंहभूम जिले में अभी तक जो आंकड़े सामने आए उसके हिसाब से बच्चे अधिक संक्रमित हुए हैं। हालांकि, किसी की स्थिति गंभीर नहीं है। सभी का घरों में इलाज चल रहा है। जिन बच्चों को वैक्सीन नहीं लगी है उनपर अधिक ध्यान देने की जरूरत है।

Edited By: Madhukar Kumar