जमशेदपुर। केंद्र सरकार ने लोगों को राहत देते हुए शनिवार को पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क घटा दिया है। रविवार से पेट्रोल 9.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल 7 रुपये प्रति लीटर सस्ती मिलेगी। इसके साथ केंद्र सरकार ने उज्ज्वला योजना के गैस सिलिंडर के दाम को 200 रुपये कम करने का निर्णय लिया है। इसका भाजपा जमशेदपुर नगर कमेटी ने स्वागत किया।

राज्य सरकार अब करें वैट कम : कुणाल षाडंगी

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता कुणाल षाड़ंगी ने स्वागत करते हुए इसे जनता के लिए बड़ी राहत बताया है। उन्होंने कहा कि जिस समय पूरी दुनिया में रुस- यूक्रेन युद्ध के कारण उर्जा की कीमत उच्च स्तर पर है। ऐसे समय में मोदी सरकार द्वारा तेल की कीमतों में कटौती करना, हिम्मत वाला निर्णय है। उन्होंने उज्ज्वला योजना के गैस सिलिंडर में 200 रुपये की कमी को सराहनीय बताते हुए कहा कि इससे माताओं-बहनों को बड़ी राहत मिलेगी। पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी ने झामुमो-कांग्रेस एवं राजद महागठबंधन द्वारा तेल की कीमतों पर बयानबाज़ी को बंद करने और राज्य की "हिम्मत" सरकार को कार की सवारी से उतरकर हिम्मत दिखाने और राजकीय वैट में कटौती करने की अपील की है।

भाजपा जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष ने मोदी का जताया आभार

भाजपा जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष गुंजन यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को धन्यवाद देते हुए आभार जताया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनहित में बड़ा फैसला लिया है। इससे देश की जनता, मध्यम वर्ग सहित ट्रांसपोर्ट क्षेत्र के लोगों को काफी मदद मिलेगी। किसानो को भी आने वाले सीजन में लाभ मिलेगा। जिलाध्यक्ष गुंजन यादव ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के नौ करोड़ से अधिक लाभार्थियों को अब 200 रुपये प्रति सिलेंडर सब्सिडी देने के निर्णय की सराहना करते हुए कहा कि इससे हमारी माताओं-बहनों को राहत मिलेगी।

मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

भाजपा जमशेदपुर महानगर प्रवक्ता प्रेम झा ने पेट्रोल-डीजल और एलपीजी के दाम कम करने के बड़े फैसले पर केंद्र सरकार का आभार जताया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के निर्णय को महंगाई पर बड़ा प्रहार बताते हुए कहा कि मोदी सरकार ने हमेशा ही देश की जनता के हितों का पूरा ध्यान रखा है। उन्होंने कहा कि पिछले नवंबर में भी केंद्र सरकार ने अपने हिस्से के टैक्स को कम कर जनता को राहत दी थी, परंतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राज्य सरकार से वैट कम करने की अपील के बाद भी हेमंत सरकार ने उस समय भी राजकीय वैट को कम नही किया था। अब राज्य सरकार को अपने हिस्से के वैट को कम करना ही होगा।

Edited By: Sanam Singh