जमशेदपुर : अगर आप नौकरी से उब चुके हैं या किसी अच्छे बिजनेस करने की तलाश में हैं, जहां कम लागत से मोटी रकम कमाई जा सकती है। इसके लिए आपको एक बेहतर आइडिया दे रहे हैं। इस बिजनेस में आपको मामूली रकम खर्च करनी है ओर लाखों रुपये की आमदनी होगी। यह बिजनेस है मछली पालन। सरकार किसानों की आमदनी को दोगुनी करने के लिए मछली की व्यापार पर ज्यादा फोकस कर रही है, जिसमें सरकार की ओर से आर्थिक सहायता भी मुहैया कराई जाती है।

केंद्र सरकार ने केसीसी के जरिए मछली पालन को भी किया शामिल

केंद्र सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) में मछली पालन को भी शामिल कर दिया है। किसान खेती के साथ मछली पालन का काम शुरू करके अपनी कमाई को बढ़ा सकते हैं। मछली पालन का काम अपने खुद के तालाब या किराए पर तालाब लेकर किया जा सकता है। सरकार दोनों ही योजनाओं में किसानों को लोन मुहैया कराती है।

मछली पालन में ऐसे करें बेहतर कमाई

अगर मछली पालन का व्यापार शुरू करना चाहते हैं तो बायोफ्लॉक तकनीक का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस तकनीक का इस्तेमाल कर लोग लाखों रुपये का कमाई हर महीने कर रहे है। इसकी खेती के लिए केंद्र सरकार 75 प्रतिशत उपलब्ध करा देती है लोन।

केंद्र सरकार मछली पालने के लिए कुल लागत का 75 प्रतिशत तक लोन मुहैया कराती है। मछली पालन का काम ठहरे हुए पानी और बहते हुए पानी, दोनों तरह से कर सकते हैं। इस तरह का पहाड़ों पर किसी झरने के किनारे किया जाता है। ठहरे हुए पानी में मछली पालन का काम मैदानी इलाकों में किया जाता है।

पूर्वी सिंहभूम जिला मत्स्य विभाग से ले सकते हैं सलाह

हर जिले में मछली पालन विभाग होता है, जो मछली पालकों को हर तरह की मदद मुहैया कराता है। नया काम शुरू करने वालों को मछली पालन की ट्रेनिंग भी दी जाती है। मछली पालन का ट्रेनिंग प्राप्त कर आ मछली पालन का व्यापार शुरू कर सकते हैं।

Edited By: Jitendra Singh