चक्रधरपुर/जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। लगातार हो रही बारिश का असर ट्रेनों के परिचालन पर भी पडा है। पश्चिम बंगाल के हावड़ा स्टेशन तथा आसपास हो रही भारी बारिश से रेल लाइन पर जलजमाव हो गया है। इस वजह से रेलवे ने इस्पात एक्सप्रेस, आद्रा पैसेंजर सहित एक दर्जन ट्रेनों को रद कर दिया है। रेलवे लगातार हालात पर नजर बनाए हुए है। जैसे भी हालात अनुकूल होंगे, ट्रेनों का परिचालन शुरू किया जाएगा।

उधर, दक्षिण- पूर्व रेलवे से चलने वाली पांच ट्रेन दिसंबर माह से हावड़ा के बजाए शालीमार से चलेगी। जोन ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है। नए आदेश के तहत 12881-12882 पुरी हावड़ा पुरी गरीब रथ द्वि साप्ताहिक एक्सप्रेस, 12887-12888 पुरी हावडा पुरी साप्ताहिक एक्सप्रेस, 12895-12896 पुरी हावड़ा पुरी साप्ताहिक एक्सप्रेस, 22803-22804 संबलपुर हावड़ा संबलपुर साप्ताहिक एक्सप्रेस और 12151-12152 लोकमान्य तिलक-हावड़ा-लोकमान्य तिलक टर्मिनल शामिल है। ये सभी ट्रेन शालीमार से होते हुए सांतरागाछी में भी रुकेगी। टर्मिनल बदलने से हावड़ा में ट्रैफिक कम होगा। साथ ही शालीमार स्टेशन का भी विकास हो पाएगा।

ये रही रद की गइ ट्रेनों की सूची

चीफ सेफ्टी ऑफिसर आएंगे टाटानगर

टाटानगर रेलवे स्टेशन के पास 14 जुलाई तीन ट्रेन बेपटरी हुई थी। इस मामले की जांच के लिए दक्षिण पूर्व रेलवे के प्रिंसिपल चीफ सेफ्टी ऑफिसर टाटानगर पहुंच रहे हैं। घटना की जांच से पहले वे खड़गपुर डिविजन में ट्रैक मेंटेनेंस की जांच करते हुए टाटानगर पहुंचेंगे। इसके लिए चक्रधरपुर मंडल के डीआरएम वीके साहू भी टाटानगर पहुंच रहे हैं।

टाटानगर स्टेशन पर मिला एक यात्री कोरोना पॉजिटिव

टाटानगर रेलवे स्टेशन पर गुरुवार सुबह अहमदाबाद स्पेशल से आया एक यात्री कोविड पॉजिटिव पाया गया। जांच के बाद संबधित यात्री को एंबुलेंस से एमजीएम अस्पताल भेजा गया। टाटानगर रेलवे स्टेशन पर 15 अप्रैल से ही लगातार दूसरे राज्यों से आए यात्रियों का कोविड टेस्ट किया जा रहा है। गुरुवार को साउथ बिहार, चक्रधरपुर टाटा पैसेंजर, गीतांजलि स्पेशल, हावड़ा मुंबई दुरंतो, अहमदाबाद स्पेशल, इस्पात सुपरफास्ट, हावड़ा इंटरसिटी और हमसफर एक्सप्रेस से आए 565 यात्रियों की स्वास्थ्य विभाग व रेल सिविल डिफेंस की मदद से कोविड जांच की गई।

बांग्लादेश के लिए तीसरी आक्सीजन एक्सप्रेस रवाना

टाटानगर रेलवे स्टेशन से लगातार तीसरी आक्सीजन एक्सप्रेस बांग्लादेश के बेनापोले के लिए रवाना हुई। इस ट्रेन से 10 कंटेनरों से 200 टन लिक्विड मेडिकल आक्सीजन भेजा गया है। टाटानगर रेलवे स्टेशन से बांग्लादेश से पहली आक्सीजन एक्सप्रेस 24 जुलाई को जबकि दूसरी आक्सीजन एक्सप्रेस 27 जुलाई को रवाना किया गया था। दक्षिण पूर्व रेलवे कोविड 19 मरीजों की जान बचाने के लिए अप्रैल 2021 से आक्सीजन एक्सप्रेस का संचालन कर रही है। अब तक देश के 12 राज्यों को दक्षिण पूर्व रेलवे 20 हजार टन लिक्विड मेडिकल आक्सीजन की सप्लाई कर चुकी है।

 

Edited By: Rakesh Ranjan