जमशेदपुर, जासं। भारतीय जनता पार्टी, किसान मोर्चा के प्रदेश प्रवक्ता विजय तिवारी ने एक बयान में कहा कि देश का किसान और देश की जनता किसान आंदोलन के माजरे को समझ गई है। यही वजह है कि शनिवार के चक्का जाम को देश के सच्चे किसानों का समर्थन नहीं मिला। किसान बिचौलियों का चक्का जाम पूरी तरह फेल रहा।

उन्होंने कहा कि विदेशी ताकतों के साथ मिलकर विपक्ष द्वारा राष्ट्रवादी केंद्र सरकार को बदनाम करने के लिए विगत दो महीनों से छद्म किसान आंदोलन चलाकर हमारे भोले-भाले किसानों को बहकाने का पूरा प्रयास किया गया, लेकिन 26 जनवरी की घटना के बाद यह स्पष्ट हो गया कि विदेशी ताकतें देशहित में काम कर रही मोदी सरकार को अस्थिर और बदनाम करना चाह रही हैं। लेकिन यह मोदीजी का धैर्य, संयम और समझदारी ही है कि उन्होंने हमारे किसानों पर कोई कड़ा कदम नहीं उठाया। अब धीरे धीरे इन साजिशों का खुलासा हो रहा है। अब देश के किसान समझ रहे हैं कि उन्हें साजिश के तहत इस छद्म किसान आंदोलन में शामिल किया गया, इसलिए अब किसान उनके बहकावे में नहीं आ रहे हैं। मेरा भी अपने किसान भाइयों से आग्रह है कि किसी के बहकावे में न आएं। जिस प्रकार "जय जवान जय किसान" के नारे से देश गर्व महसूस करता है, इसे बनाएं रखें।

ज्ञात हो कि जमशेदपुर में शनिवार को टाटा-रांची राष्ट्रीय उच्चपथ (एनएच)-33 पर मानगो स्थित डिमना चौक के पास कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया था।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021