जमशेदपुर,जासं।  एनआइटी जमशेदपुर के नए भवन डायमंड जुबली लेक्चर हॉल काप्लेक्स में टेक्नोलॉजी सहकारिता सहयोग समिति एनआईटी जमशेदपुर की वार्षिक आमसभा का आयोजन समिति के अध्यक्ष डा. रंजीत प्रसाद की अध्यक्षता में क‍िया गया।

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में संस्थान के निदेशक प्रोफेसर करुणेश कुमार शुक्ला तथा कुलसचिव कर्नल (डा.) एन. के. राय थे। सहकारिता सहयोग समिति की इस वार्षिक बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। समिति का वार्षिक लेखा जोखा समिति के अवैतनिक सचिव राजकुमार ने सभी सदस्यों के सामने प्रस्तुत किया गया। जिसका अनुमोदन सभी ने ध्वनिमत से किया।

एक अप्रैल से लागू होगी नई व्‍यवस्‍था

इसमें पचास हजार से अधिक आय वाले समिति के सदस्यों को दिए जाने वाले ऋण की सीमा आठ लाख से बढ़ा कर दस लाख किया गया। बाकी के लिए यह सीमा आठ लाख ही रहेगी। ऋण में लगने वाले ब्याज को 7.5 प्रतिशत से घटा कर 6.5 प्रतिशत वार्षिक किया गया। यह व्यवस्था एक अप्रैल 2021 से लागू होगी। समिति के कोषाध्यक्ष दीनानाथ प्रसाद के सेवानिवृत होने के कारण बचे हुए कार्यकाल के लिए सर्वसम्मति से दशरथ मार्डी को कोषाध्यक्ष नियुक्त किया गया। इस आमसभा में वर्तमान वित्तीय वर्ष में संस्थान से सेवानिवृत होने वाले शिक्षकों एवं कर्मचारियों को कंबल और शॉल देकर सम्मानित किया गया। सहयोग समिति के 50 वर्ष पूरे होने के अवसर पर सभी सदस्यों को 20 ग्राम का एक-एक चांदी का सिक्का उपहार में देने का निर्णय लिया गया।

इनका हुआ सम्मान 

 प्रोफेसर आर पी सिंह (मेटलर्जी विभाग), दीनानाथ प्रसाद, नंदलाल रजक, खगेश्वर महतो, भोला प्रसाद, श्याम सुंदर मंडल, चंचला प्रधान, एन के सेठी, सीताराम मुखी, मोहन राम महतो, लालमोहन सिंह एवं मधुसूदन पति थे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप