जमशेदपुर,जासं। टाटा मोटर्स जमशेदपुर प्लांट में फुल टर्म अप्रेंटिस एफटीए ट्रेनिंग कर चुके अनुसूचित जाति (एससी) एवं अनुसूचित जनजाति (एसटी) व सामान्य जाति के प्रशिक्षुओं को बाइ सिक्स (अस्थायी पूल) में बहाल करने के लिए मौका नहीं देने मामले में उप श्रमायुक्त ने टाटा मोटर्स प्रबंधन को नोटिस जारी कर जवाब देने को कहा है।

उप श्रमायुक्त राजेश प्रसाद की ओर से इस संबंध में प्लांट हेड के नाम पत्र भेजा गया है। जिसमें 29 जनवरी तक अपना जवाब देने को कहा गया है, ताकि स्थिति स्पष्ट हो सके। विपुल कुमार शर्मा सहित अन्य प्रशिक्षुओं ने उप श्रमायुक्त को पत्र सौंप कर टाटा मोटर्स प्रबंधन पर कंपनी में बाइ सिक्स (अस्थायी पूल) में बहाल करने के लिए मौका नहीं देने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी।

इसबार नहीं मिला है मौका

इन प्रशिक्षुओं का कहना है कि टाटा मोटर्स में फुल टर्म अप्रेंटिस ट्रेनिंग की है। पूर्व में जमशेदपुर और झारखंड के बच्चों को कंपनी में ट्रेनिंग के उपरांत बाइ सिक्स में बहाल होने का मौका मिलता था लेकिन इस बार ट्रेनिंग किये प्रशिक्षुओं को मौका नहीं दिया गया है। केवल वार्ड रजिस्ट्रेशन कर्मचारी पुत्रों को मौका दिया गया है जबकि ट्रेनिंग के उपरांत लंबे समय से सभी प्रशिक्षु नियोजन की आस लगाये हुए थे कि उन्हें भी बहाली में शामिल होने का मौका मिलेगा।

गेट जाम करने में मांगा सहयोग

इधर गुरुवार को प्रशिक्षुओं ने एआईटीयूसी नेता अंबुज ठाकुर से मुलाकात कर अपनी समस्या से अवगत करा 29 जनवरी को गेट जाम में सहयोग मांगा। प्रशिक्षुओं ने उचित पहल नहीं होने पर 29 जनवरी को टाटा मोटर्स मेन गेट जाम करने करने की चेतावनी दी है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप