जमशेदपुर (जागरण संवाददाता) । सीबीएसई ने सोमवार को 12वीं का परीक्षा परिणाम सोमवार को अचानक घोषित कर दिया गया। कोल्हान प्रमंडल के स्कूलों की बात करें तो 90 प्रतिशत छात्रों ने सफलता प्राप्त की है। कुल 1600 छात्रों ने परीक्षा दी थी। इसमें से दस प्रतिशत छात्र फेल हुए हैं। इस परीक्षा में डीएवी बिष्टुपुर ने सभी संकाय में अपना वर्चस्व स्थापित किया है। साइंस मेंं मयंक कुमार पंडा, कॉमर्स में हार्दिक अग्रवाल और आर्टस में प्रेरणा सिंह टॉपर बनी है। हार्दिक कॉमर्स का स्टेट टॉपर बना है। संकाय में टॉप फाइव में इस स्कूल ने जगह बनाई है।

सिर्फ यही नहीं टॉप टेन के 80 प्रतिशत छात्र इसी स्कूल से हैं। डीएवी का प्रदर्शन शानदार रहा वहीं जेपीएस, विद्याभारती चिन्मया स्कूल, जुस्को स्कूल साउथपार्क और सेंट मेरीज स्कूल का प्रदर्शन सामान्य रहा। इस बार टॉप टेन की सूची में इन स्कूलो के इक्का दुक्का छात्र ही जगह पा सके है। 

जमशेदपुर क्षेत्र के सीबीएसई स्कूलों के समन्वयक सह डीएवी बिष्टुपुर की ङ्क्षप्रसिपल प्रज्ञा सिंह ने बताया कि पूर्वी सिंहभूम व पश्चिमी सिंहभूम से कुल 1600 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी थी, जिसमे जमशेदपुर क्षेत्र के स्कूलों का रिजल्ट 90 प्रतिशत रहा है।

रिजल्ट घोषित होते ही वेबसाइट में आई तकनीकी गड़बड़ी 

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 12वीं कक्षा के परिणामों की घोषणा होते ही सीबीएसई के रिजल्ट पोर्टल पर जारी किया गया था। हालांकि, परीक्षार्थियों के अधिक संख्या में पोर्टल पर एक साथ विजिट करने के कारण वेबसाइट मेें तकनीकी खराबी आ गयी है, जिसको देखते हुए बोर्ड ने छात्रों के लिए महत्वपूर्ण अपडेट जारी करते हुए सीबीएसई 12वीं रिजल्ट 2020 को ठीक होने तक के लिए डिजिलॉकर से डाउनोलड करने की अपील की थी।

छात्राओं का रहा जलवा

पूर्वी  सिंहभूम में साइंस, कॉमर्स और आर्टस के टॉपरों के लिस्ट में छात्राओं का जलवा रहा है। साइंस के टॉपटेन की सूची में कुल 19 विद्यार्थियों को जगह मिली है। इनमे से 9 छात्राएं और 10 लड़के है। वहीं कॉमर्स के टॉप टेन की सूची में 13 विद्यार्थियों में 10 छात्राएं है, महज 3 छात्र है। वहीं आर्टस के टॉप फाइव की सूची में 2 छात्राएं और 3 छात्र शामिल हैंं।

 परिणाम काफी उत्साहवर्धक : प्रज्ञा सिंह

सोमवार को घोषित सीबीएसई परीक्षा परिणाम में स्कूल के बेहतरीन प्रदर्शन पर प्रसन्नता जताते हुए डीएवी पब्लिक स्कूल बिष्टुपुर की प्राचार्या प्रज्ञा सिंह ने कहा कि शिक्षकों की मेहनत व पढ़ाई के बेहतरीन माहौल की अहम भूमिका रही। उन्होंने कहा कि एक चीज जो साफ नजर आती है कि जो बच्चे नियमित रहे उनका प्रदर्शन भी अच्छा रहा। आगे के बारे में उन्होंने कहा कि सीबीएसई ने सिलेबस में कटौती की है लेकिन प्रयास रहेगा कि पूरा सिलेबस पढ़ाया जाए। परिणाम अपनी जगह है, ज्ञान का होना अलग बात है।

बच्चों ने फिर साबित कर दिखाया 

परिणामों पर प्रतिक्रिया जताते हुए डीएवी पब्लिक स्कूल के राजेश पांडेय ने कहा कि एक बार फिर बच्चों ने अपनी मेहनत व शिक्षकों के मार्गदर्शन के बल पर श्रेष्ठ प्रदर्शन कर दिखाया है। स्कूल को उनपर गर्व है और स्कूल परिवार उनके उज्जवल भविष्य की कामना करता है।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस