बिशुनपुर : विकास भारती के सचिव पद्मश्री अशोक भगत ने कहा है कि हम संकल्प लेते हैं सामाजिक उत्थान का । व्यक्तिगत और सामूहिक विकास का। सर्वजन सुखाय का। हमारे संकल्प में आम जनता के कल्याण की भावनाएं सन्निहित रहती है। अपने संकल्प को पूरा करने में विलंब नहीं करते यही कारण है कि विकास भारती ही एक मात्र बेदाग संस्था है जिसमें जनता का विश्वास है। जनता के सहयोग से हम विकास की यात्रा को निरंतर आगे बढ़ाते जा रहे हैं। जब तक हममें काम करने की निष्ठा रहेगी हमें आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता। सोमवार को विकास भारती बिशुनपुर के परिसर में संचालित संस्थाओं और गोद लिए गए गांवों में विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। आध्यात्मिक चेतना जगाने के साथ साथ जागरुकता का भाव लाने की कोशिश की गई। विकास भारती के स्थापना दिवस पर अहले सुबह ज्ञान निकेतन तक्षशिला आश्रम, टैगोर आश्रम, एवं विद्या मंदिर के बच्चों ने प्रभातफेरी निकाली। अन्य वर्षों की तरह संस्था के सचिव अशोक भगत ने ग्रामीणों और कार्यकर्ताओं के बीच अन्न एवं अंगवस्त्र का वितरण किया लोगों को बधाई दी। उन्होंने गुड़, चूड़ा से लोगों का मुंह मीठा किया। ज्ञान निकेतन आश्रम परिसर में सोमवार को बच्चों एवं कार्यकर्ताओं ने 12 घंटे का अखंड हरि कीर्तन किया। शिव¨लग पर जलाभिषेक किया गया। नंदी की मूर्ति का प्राण प्रतिष्ठा ने दूध एवं जल से जलाभिषेक किया। सातों गांव में मेला समिति द्वारा किसान मेला सह किसान प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। उत्पादित फसलों की प्रदर्शनी लगाई गई। भाजपा सांसद समीर उरांव ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि विकास भारती के प्रयास से 31 वर्षों से इस गांव में मेला लगाया जा रहा है। विकास भारती किसानों को अच्छी खेती करने के लिए न सिर्फ प्रोत्साहित करती है बल्कि किसानों को पैदावार लाभ दिलाने का तौर तरीका सिखाते हुए प्रशिक्षण दिलाने का काम करती है। सांसद ने किसानों को वैज्ञानिक पद्धति से कृषि कार्य करने, उत्पादन की लागत कम करने, कृषकों को जीविकोपार्जन का आधार बनाने की नसीहत दी। सांसद ने कहा कि सरकार किसानों की आय को दोगुना करने के लिए कृत संकल्प है। रोजगार से जोड़ने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने आदिवासियों को अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देने की सलाह दी। टाना भगतों को सम्मानित किया जा रहा है। उनकी जमीन लौटाने के लिए प्राधिकार का गठन किया गया है। सरकार किसानों को खेती करने के लिए सहायता राशि भी दे रही है। इस अवसर पर महेंद्र भगत, डा. संजय कुमार पांडेय, आलोक उरांव, जगत ठाकुर, उत्तम साहु, संत नगेशिया, मुखिया तारामुनी, रवि भगत, महावीर उरांव , सुधीर भगत, अजीत उरांव, अनिल उरांव, कौशल ¨सह, नीरज कुमार वैश्य, विनोद कुमार, सुनील कुमार आदि उपस्थित थे।

रोजगारोंन्मुखी प्रशिक्षण का अशोक भगत ने किया उदघाटन

विकास भारती द्वारा मकर संक्रांति के दिन चार पहिया वाहनों की मरम्मत सह प्रशिक्षण केंद्र का उदघाटन किया। उन्होंने कहा कि हमारी संस्था युवकों को हुनरमंद बनाकर स्वरोजगार से जोड़ने के लिए प्रतिबद्ध है। वाहनों की मरम्मत कर अच्छी आय प्राप्त की जा सकती है। जीवन स्तर सुधारा जा सकता है। बेरोजगारी मिटाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि आज का युग तकनिकी ज्ञान है। हम युवाओं में ज्ञान बांटना चाहते हैं। समाज को सशक्त बनाना चाहते हैं। समाज अब अचेतन की अवस्था में नहीं है। गांवों में विकास पहुंचा है। लोगों को सरकारी सुविधाओं का लाभ उठाना चाहिए। सरकारी सुविधाओं का लाभ दिलाना ही संस्था का उद्देश्य है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप