जेएनएन, गुमला/रायडीह : कोविड-19 टीकाकरण के प्रथम चरण के दूसरे दिन सोमवार की सुबह सदर अस्पताल के एनसीडी केंद्र में 60 स्वास्थ्य कर्मियों व रायडीह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 70 स्वास्थ्यकर्मियों व सहिया का टीकाकरण किया गया। रायडीह में 65 सहिया और पांच अस्पताल कर्मियों ने टीका लिया। टीका लेने के बाद स्वास्थ्यकर्मचारी व डाक्टर अपने अपने काम में लग गए। टीकाकरण के पश्चात किसी भी लाभार्थी पर टीका का साइड इफेक्ट नहीं देखा गया। बूथ पर एएनएम रीना तिर्की टीका लगाने का काम कर रही थी। टीका के बाद काफी संख्या में एंबुलेंस चालक और स्वास्थ्य कर्मियों को आ‌र्ब्जबेशन कक्ष बैठाया गया था। डा. पीसीके भगत ने 11.10 बजे टीका लगवाया और टीका लगवाने के तुरंत बाद ही टीका केंद्र पर ही अपनी ड्यूटी में तैनात हो गए। रायडीह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. दिलीप कुमार खेस की देखरेख में सभी को बारी बारी से प्रशिक्षित एएनएम ग्लोरिया लकड़ा ने टीका लगाया। यहां टीकाकरण होने के पश्चात आ‌र्ब्जवेशन कक्ष में किसी को नहीं बैठाया। सभी टीका लेने के बाद अपने-अपने काम को चले गए। इन्हें न ही कोई रोकने वाला था और न ही इन्हें आब्जर्वेशन कक्ष में बैठने के लिए कोई कह रहा था।

----

कोट

मैंने टीका लिया और तुरंत ही अपने ड्यूटी में लग गया। टीका लेने से मेरे स्वास्थ्य में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई है। टीका से डरने की जरूरत नहीं है।

डा. डा.पीसीके भगत

----

टीका लगाने पर चींटी काटने जैसी चुभन हुई है। मैं स्वस्थ हूं। आब्जर्वेशन कक्ष में आधा घंटा रुकने के बाद मैं सिसई जा रहा हूं। जहां अपनी ड्यूटी करुंगा।

मो. मिनहाज स्वास्थ्य कर्मी

-----------------

टीका लेने के बाद उनके कोरोना का भय समाप्त हो गया है। उसके स्वास्थ्य में टीका का कोई साइड इफेक्ट नहीं हुआ है।

दिव्या मनिरा किडो सहिया

-------

अपने और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए मैंने टीका लगवाया है। अब में बिना किसी भय के अपना काम कर सकूंगी।

-श्रद्धा देवी सफाई कर्मी

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप