ठाकुरगंगटी : प्रखंड सह अंचल कार्यालय परिसर के निकट स्थित प्रखंड संसाधन केंद्र जर्जर हो चुका है। इस प्रखंड संसाधन केंद्र भवन में प्रवेश करने वाले मुख्य द्वार के पोíटको में दरार आ चुकी है। जिससे प्रखंड संसाधन केंद्र में प्रवेश करने पर हमेशा खतरा बरकरार रहता है। कब किसके ऊपर टूट कर इसकी दीवार व छज्जा-प्लास्टर न गिर जाए कोई निश्चित नहीं है। प्रखंड संसाधन केंद्र में आने-जाने वालों के साथ पल-पल असुरक्षा रहती है। इस भवन में आने वाले कोई भी अपने को सुरक्षित महसूस नहीं कर पाते हैं।

इतनी उपयुक्त जगह पर रहने के बावजूद भी इस भवन की यह स्थिति बनी हुई है। इसी प्रखंड संसाधन केंद्र में प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी, प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी का कक्ष है। प्रखंड समन्वयक, संकुल समन्वयक सहित प्रखंड संसाधन केंद्र एवं शिक्षा विभाग के सभी अधिकारी कर्मी इसी भवन में बैठते और आते जाते हैं। प्रखंड क्षेत्र के सभी विद्यालयों के तमाम शिक्षक भी विभागीय कार्यों से इसी प्रखंड संसाधन केंद्र में आते जाते हैं। शिक्षा विभाग एवं विद्यालय से संबंधित सभी कर्मियों, शिक्षकों, शिक्षिकाओं, ग्राम शिक्षा समिति के पदाधिकारियों, सदस्यों, विद्यालय प्रबंधन समिति के अधिकारियों, सदस्यों, माता समिति संयोजिका, रसोईया आदि सैकड़ों लोगों का भी आवागमन इस प्रखंड संसाधन केंद्र में होता है। इसके बावजूद भी इस भवन की काफी दिनों से यह स्थिति बनी हुई है। ठाकुर गंगटी प्रखंड क्षेत्र के लोगों ने ही दल की सरकार और एक ही दल के प्रत्याशियों को अब वोट दिया है। महागामा विधायक अशोक कुमार भगत यहां से चार बार चुनाव जीते हैं लेकिन बीआरसी भवन सहित अन्य जर्जर भवनों की सुध उन्होंने नहीं ली।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021