संवाद सहयोगी, ठाकुरगंगटी : ठाकुरगंगटी प्रखंड के मेहरमा थानान्तर्गत दिग्घी पंचायत के पहाड़पुर-सिमनपुर ग्राम के अग्निपीड़ितों की चिता दूर होने का नाम नहीं ले रही है। बुधवार की पूरी रात और गुरुवार को दोपहर बाद तक प्रभावित परिवार परेशान रहे। आग लगने से उनका सबकुछ राख हो गए है। घर के अनाज, कपड़ा, बर्तन, नकदी सहित जरूरी कागजात भी जल गए हैं। बुधवार देर शाम वहां बिजली की शॉट सर्किट से एक घर में आग लग गई थी। तब लोग अपने घरों में भोजन बना रहे थे। देर शाम की उक्त घटना में ग्रामीणों ने तब यह बताया था कि लकड़ी से खाना बनाने के दौरान घर में आग लगी लेकिन शीघ्र ही इसका खुलासा हो गया कि आग खाना बनाने से नहीं, बल्कि बिजली की शॉट सर्किट से लगी है।

गुरुवार को प्रशासनिक अमला प्रभावित गांव पहुंचा और पीड़ित परिवारों की सुध ली। स्थानीय मुखिया ने सभी प्रभावित परिवारों को तत्काल दस-दस किलो अनाज बंटवाए। अधिकारियों के पहुंचने पर वहां सभी अग्नि पीड़ित रोते बिलखते भूखे प्यासे गुहार लगाने लगे। पप्पू पासवान के घर से आग की लपटें उठी जो तेज हवा के कारण देखते ही देखते विलास पासवान, विजय पासवान, विष्णुदेव पासवान, बिमल पासवान, विकास पासवान के घर को भी पूरी तरह चपेट में ले ली। घर में रखा खाद्यान्न, कपड़ा, बर्तन, नगदी सहित गहना और जरूरी कागजात भी जलकर राख हो गए। उस गांव में मात्र एक कुआं है। उस कुएं में पंपसेट लगाने पर पानी से आग बुझाने का प्रयास किया गया लेकिन कुआं तो 20 मिनट में ही सूख गया। लोगों ने अग्निशमन विभाग को सूचित किया गया, लेकिन आग लगने के तीन घंटे बाद वहां दमकल गाड़ी आई। तबतक सबकुछ राख हो चुका था। जिला मुख्यालय से 70 किमी दूर उक्त गांव में अब भी पीड़ितों के दिलों में आग धधक रही है। इससे पूर्व भी जब कभी भी भीषण आग लगी है तो समय भी दमकल गाड़ी नहीं पहुंची है। बिलास पासवान की 6 बकरी भी जलकर मर गई।

विजय पासवान के घर में नगद 25 हजार रुपये व पप्पू पासवान के घर में 20 हजार रुपये भी जल गए। विजय पासवान अपनी लड़की की शादी के लिए उक्त रकम अपने घर पर रखी थी। 15 दिन बाद ही विजय की लड़की की शादी होनी है। ग्रामीणों ने कुल 10 लाख रुपये की संपत्ति के नुकसान का दावा किया है। दिग्घी पंचायत की मुखिया शिला देवी ने 10 -10 किग्रा चावल दिलवाया है। अग्निपीड़ित अब परिवार के बच्चों के साथ खुले आसमान में रहने को विवश हैं।

ठाकुर गंगटी के अंचलाधिकारी खगेन महतो ने नियमानुसार सभी अग्निपीड़ितों को उचित मुआवजा का आश्वासन दिया है। अंचलाधिकारी के आदेश पर राजस्व कर्मचारी शशिभूषण महतो ने अग्नि प्रभावितों के नुकसान की जांच की। समाजसेवी विक्रांत कुमार, पवन कापरी, बिट्टू कुमार सिंह, मोहन पासवान, परशुराम साह, प्रदीप कुमार, फूलचंद साह, शेख तनवीर, ब्रजेश सिंह, अभय साह आदि ने प्रशासन से तत्काल राहत और बचाव कार्य शुरू करने की मांग की है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप