- खान सुरक्षा के साथ कोयला उत्पादन में तेजी लाने का दिया निर्देश

संवाद सहयोगी ललमटिया:- गुरुवार को राजमहल परियोजना के खनन क्षेत्र के विभिन्न साइट आरसीएमएल साइड, महालक्ष्मी कंपनी के साइड, सीएचपी जीरो पॉइंट और बसडीहा साइड में चल रहे खनन क्षेत्र का निरीक्षण डायरेक्टर परिचालन डीटी एसके झा ने किया। निरीक्षण के दौरान झा ने मिट्टी की कटाई और कोयले के उत्पादन में तेजी लाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि उत्पादन के दौरान सुरक्षा का पूरा ध्यान रखना है। किसी प्रकार की सुरक्षा में कोई कमी ना हो। इस वित्तीय वर्ष में आरसीएमएल साइट से 17 मिलियन से अधिक उत्पादन करने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि एनटीपीसी फरक्का और कहलगांव दोनों पावर प्लांट को पर्याप्त मात्रा में कोयला नहीं मिल पा रहा है जिससे बिजली का उत्पादन प्रभावित हो रहा है। इसलिए उत्पादन में तेजी लाएं। वित्तीय वर्ष 2017 -18 में राजमहल परियोजना में 17 मिलियन टन का लक्ष्य पूरा किया। इसको लेकर प्रोत्साहित किया गया। कार्यक्रम में मौके पर प्रभारी महाप्रबंधक डीके नायक, महाप्रबंधक परिचालन किशोर कुमार, ओसीपी मैनेजर सतीश मुरारी, आर सी एम एल कंपनी के सीईओ रविद्र साठे, अंबे माइनिग प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के महाप्रबंधक सोमनाथ चक्रवर्ती आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप