गोड्डा : अभाविप गोड्डा नगर इकाई का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को स्थानीय विधायक अमित मंडल से मिला। प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नगर मंत्री गौतम कुमार महतो एवं अंकुल कश्यप ने किया। छात्रों ने सबसे पहले नियोजन नीति में सुधार के लिए उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए आभार व्यक्त किया। विधायक अमित मंडल ने नियोजन नीति के बारे में बताते हुए कहा कि स्थानीय नीति में राज्य के मूल निवासियों के जन भावना को ध्यान में रखते हुए आवश्यक संशोधन किया गया है। पूरे राज्य में एक समान स्थानीय नीति से राज्य के 65 फीसद युवाओं को लाभ मिलेगा। आनेवाले समय में उन्हें रोजगार मिलेगा। इस फैसले के बाद सभी 24 जिलों में तृतीय और चतुर्थ श्रेणी में सिर्फ स्थानीयता को ही नौकरी मिलेगी। मगर आरक्षण का लाभ वैसे ही स्थानीय को मिलेगा जो कट ऑफ डेट से पहले सूबे में निवास करते आ रहे हैं। झारखंड सरकार की स्थानीय नीति के अनुसार 1985 के पहले से राज्य में निवास करनेवाले स्थानीय माने जाएंगे। पिछले वर्ष विद्यार्थी परिषद ने चरणबद्ध तरीके से आंदोलन की शुरुआत की एवं स्थानीय नीति को लेकर नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय इकाई के द्वारा कार्यकर्ता द्वारा घेराव के दौरान पुलिस की लाठी भी खानी पड़ी थी। झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास, शिक्षा मंत्री नीरा यादव, बाउरी कमेटी के अध्यक्ष सह राजस्व मंत्री अमर बाउरी एवं नियोजन समिति के सभी सदस्य को अभाविप ऐसे निर्णय को ले आभार व्यक्त करती है। मौके पर जतिन भारद्वाज, प्रीतम कुमार, अशोक कुमार, अमित कुमार, सोम जी आनंद, सोनू पाठक, राहुल कुमार आदि सभी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस