खोरीमहुआ : अनुमंडल क्षेत्र के धनवार, परसन व घोड़थंबा पुलिस के साथ ग्रामीणों ने मारपीट व हाथापाई जैसी घटना घटी है। उस घटना में कहीं न कहीं हम सभी से भी चूक हुई है। हम उन्हें अगर बेहतर ढंग से समझ पाते तो शायद इस प्रकार की घटना नहीं होती। उक्त बातें एसडीएम धीरेंद्र कुमार सिंह ने अनुमंडल कार्यालय में पदाधिकारियों के साथ शनिवार को आयोजित समीक्षात्मक बैठक के दौरान कही। कहा कि इस प्रकार की घटना को रोकने के लिए हमें जनता के साथ बेहतर मैत्रीपूर्ण संबंध बनाना होगा। इस क्रम में उन्होंने

वैक्सीनेशन के प्रतिशत को बढ़ावा देने के लिए लोगों को जागरूक करने, कोरोना काल में लगाए जा रहे साप्ताहिक हाट पर रोक लगाने, लोगों को शारीरिक दूरी का पालन कराने पर पहल करने का निर्देश दिया। साथ ही नदियों से बालू उत्खनन के मामले पर प्रखंड के सभी बीडीओ, सीओ व थानेदारों को कड़े कदम उठाने की हिदायत दी। कहा कि जब तक इस पर सरकार का किसी तरह का आदेश नहीं आता है। तब तक नदियों से किसी को बालू उठाने नहीं दें। चोरी-छुपे उत्खनन करने वाले या ट्रैक्टरों से बालू ले जाने वालों को किसी भी हाल में नहीं बख्शें। बालू लदा वाहन को पकड़ें और उस पर प्राथमिकी दर्ज कराएं। साथ ही डीएमओ व एसडीएम को इसकी जानकारी देकर फाइन भी काटे। कहा कि कोर्ट ने किसी विवादित जमीन पर 144 लागू है तो इसका अनुपालन कराएं और अगर अनुपालन कराने में सक्षम नही हैं तो पदाधिकारियों को अवगत कराएं। कारुडीह के अतिक्रमित जमीन मामले पर धनवार थाना प्रभारी व सीओ को उन्होने निर्देश देते हुए कहा कि जो भी व्यक्ति सरकारी गैरमजरूआ जमीन कब्जा कर घर बना चुके हैं, उन पर आने वाले दिनों में निश्चित रूप से कार्रवाई की जाएगी। झारखंड धाम, धनवार बाजार, घोड़थम्बा, गावां, तीसरी, देवरी आदि जगहों पर अतिक्रमण कर बैठे अतिक्रमणकारियों को चिन्हित कर नोटिस देने के लिए सभी सीओ को निर्देश दिया। बैठक में एसडीएपीओ मुकेश कुमार महतो, इंस्पेक्टर नवीन कुमार सिंह, बीडीओ राम गोपाल पांडेय, मोनी कुमारी, बिनोद कुमार कर्मकार, सीओ नरेश कुमार वर्मा, थाना प्रभारी संदीप कुमार, रौशन कुमार, अभिषेक रंजन, राधेश्याम पांडेय आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran