जागरण संवाददाता, गिरिडीह: गुरुवार दोपहर को मुफ्फसिल थाना अंतर्गत सदर प्रखंड के उदनाबाद, कोईमारा गांव स्थित उसरी नदी में डूबने से दो बच्चों की मौत हो गई। मृतक मयंक व गौरव चचेरा भाई थे। घटना के बाद पूरे उदनाबाद गांव में कोहराम मच गया। छठ पर्व का सारा उल्लास मातम में बदल गया। नदी किनारे ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। दोनों किशोर दोपहर 12 बजे नदी स्नान करने गए थे। इसी दौरान गहरे पानी में डूब गए। सूचना पर ग्रामीण और पुलिस पहुंची। लगभग डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद बाद दोनों को पानी से बाहर निकाला जा सका। दोनों किशोरों को सदर अस्पताल भेजा गया। जहां जांच के बाद चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद स्वजनों के आग्रह पर शवों का पोस्टमार्टम नहीं करवाया गया।

बताया गया कि उदनाबाद गांव निवासी मुरली राम का लगभग 12 वर्षीय पुत्र मयंक कुमार और गोपाल राम का लगभग 13 वर्षीय पुत्र गौरव कुमार नहाने के लिए कोइमारा उसरी नदी गए हुए थे। दोनों को डूबते देख वहां स्नान कर रहे अन्य लोगों ने हल्ला करना शुरू किया। हल्ला सुनकर ग्रामीणों की भीड़ वहां जुटी। लोग बचाने के लिए उतरे तब तक दोनों गहरे पानी में चले गए।

दोनों को जबतक बाहर निकाला गया, उनका दम टूट चुका था। इधर मौत की खबर मिलते ही दोनों के घरों में कोहराम मचा है। घर में छठ पर्व मनाने की सारी तैयारी की गई थी। अब उल्लास मातम में बदल गया। ब्राह्मण महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह समाजसेवी दीपक उपाध्याय, उप मुखिया जगदीश वर्मा, दीपक पंडित सहित उदनाबाद के ग्रामीणों ने शोक व्यक्त किया है।

Edited By: Atul Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट