गिरिडीह : कोरोना संक्रमण के फैलाव में अब कमी आने लगी है। लोग अपनी सतर्कता व एहतियात से कोरोना संक्रमण से बचाव कर रहे हैं। रोज स्वाब जांच कराने की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है लेकिन संक्रमितों की संख्या में काफी कमी आई है। लोग विभिन्न माध्यमों से स्वाब जांच कराने में जुटे हैं लेकिन स्वाब जांच की आनेवाली रिपोर्ट में संक्रमितों की संख्या नहीं के बराबर रह गई है। स्वाब जांच की प्रतिदिन आनेवाली रिपोर्ट में कोरोना संक्रमित होनेवालों का ग्राफ एकदम थम गया है जो राहत देनेवाली खबर है। बुधवार व गुरुवार को विभिन्न माध्यमों से 11,953 लोगों की स्वाब जांच की गई। इनमें महज नौ लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। इसमें बुधवार को तीन व गुरुवार को छह संक्रमित चिन्हित किए गए। इसके तहत गुरूवार को विभिन्न माध्यमों से 5838 लोगों की स्वाब जांच की गई। इसके तहत 785 लोगों की आरटीपीसीआर जांच की रिपोर्ट आई। जिनमें चार लोग पाजिटिव पाए गए। पाजिटिव पाए गए लोगों में पीरटांड़ प्रखंड से दो व तिसरी प्रखंड से दो व्यक्ति शामिल हैं। वहीं 299 लोगों की ट्रूनेट से जांच की गई। इनमें दो लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। इनमें से राजधनवार व बगोदर प्रखंड से एक-एक व्यक्ति शामिल हैं। 4755 लोगों की एंटीजन किट से भी जांच की गई। इस जांच में किसी की रिपोर्ट कोरोना संक्रमित के रूप में नहीं आई है। वहीं गुरुवार को जिले के अलग-अलग केंद्रों पर 3090 लोगों का स्वाब आरटीपीसीआर जांच के लिए संग्रह किया गया तथा बुधवार को जांच में भेजे जाने के बाद शेष बचे हुए स्वाबों को मिलाकर 907 लोगों का स्वाब जांच के लिए धनबाद स्थित सरल लैब भेजा गया। वहीं बधवार को 6115 लोगों की जांच की गई। इनमें तीन लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई। इसके तहत 905 लोगों की आरटीपीसीआर जांच की गई। तीन लोग पाजिटिव पाए गए। पाजिटिव पाए गए लोगों में डुमरी प्रखंड से दो व बेंगाबाद प्रखंड के एक व्यक्ति शामिल हैं। वहीं 306 लोगों की ट्रूनेट से जांच की गई। एक भी व्यक्ति की रिपोर्ट पाजिटिव नहीं मिली है। 4904 लोगों की एंटीजन किट से भी जांच की गई। इस जांच में भी किसी की रिपोर्ट कोरोना संक्रमित के रूप में नहीं आई है। वहीं बुधवार को जिले के अलग-अलग केंद्रों पर 2934 लोगों का स्वाब आरटीपीसीआर जांच के लिए संग्रह किया गया तथा मंगलवार को जांच में भेजे जाने के बाद शेष बचे हुए स्वाबों को मिलाकर 837 लोगों का स्वाब जांच के लिए धनबाद स्थित सरल लैब भेजा गया।

Edited By: Jagran