गावां : पूरा देश कोरोना वायरस से परेशान है। इसकी रोकथाम के लिए केंद्र सरकार ने रविवार को जनता क‌र्फ्यू का आह्वान किया था, जबकि सोमवार से पूरे राज्य में लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। मंझने में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने सरकार के सभी आदेशों को धता बताते हुए उर्स के अवसर पर जुलूस निकाला और रात 12 बजे के बाद सैकड़ों लोगों की भीड़ जमाकर कव्वाली का आयोजन किया, जिसमें यूपी व कोलकाता से कव्वाल मंगाए थे। कोरोना से बचाव को ले जारी निर्देश के बाद भी इस कदर मजमा लगाने व कव्वाली का आयोजन करने से अन्य गांवों के लोगों में दहशत है।

प्रशासन के मना करने के बावजूद जुलूस और कव्वाली का आयोजन किया गया। थाना प्रभारी से लोगों ने कहा तो आयोजकों ने यह कहकर बात टाल दिया कि वे लोग भीड़ नहीं लगाएंगे। 300 से 400 की संख्या में लोग जुलूस में शामिल भी हुए और डीजे का उपयोग करते हुए कव्वाली का भी आयोजन किया। कव्वाली व जुलूस में शामिल होने वालों में 100 से अधिक लोग केरल, दिल्ली, हैदराबाद, बेंगलुरु व सऊदी अरब से आए थे। ----------------

सरकार के आदेशानुसार कहीं भी भीड़ इकट्ठा करने, सभा, सेमिनार, हाट समेत तमाम कार्यक्रम रद रखना है। देर रात कार्यक्रम करने की बात सामने आई है। पूरे मामले की जानकारी वरीय अधिकारियों को दे दी गई है। जांच के बाद दोषियों पर कार्रवाई होगी।

मधु कुमारी, बीडीओ, गावां

---------------

कार्यक्रम रद करने का आदेश था। इंस्पेक्टर परमेश्वर लियांगी व मैं मंझने जाकर कार्यक्रम नहीं करने का निर्देश देकर आए थे। आयोजकों ने सिर्फ चादरपोशी होने की बात कही थी, लेकिन बाद में उनलोगों ने कार्यक्रम आयोजित किया।

श्रीकांत ओझा, थाना प्रभारी,

गावां,

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस