बनियाडीह : सीसीएल गिरिडीह एरिया के बनियाडीह स्थित जीएम कार्यालय में शनिवार को बैठक हुई। बैठक में गिरिडीह कोलियरी के विकास को लेकर चर्चा की गई। गिरिडीह के विधायक सुदिव्य कुमार सोनू, गांडेय के विधायक सरफराज अहमद, झामुमो जिलाध्यक्ष संजय सिंह, राकोमसं के क्षेत्रीय सचिव एनपी सिंह बुल्लू, इंटक जिलाध्यक्ष नरेंद्र सिन्हा, झाकोमयू के अध्यक्ष तेजलाल मंडल आदि ने जीएम प्रशांत वाजपेयी से जनमुद्दों पर बात की। मुख्य रुप से गिरिडीह में कोयला उत्पादन बढ़ाने, कोलियरी क्षेत्र में पेयजलापूर्ति की समस्या को दूर करने, सीएसआर फंड को सही तरीके से विकास कार्यो में खर्च करने, सीटीओ आदि मामले पर चर्चा की गई। जीएम ने बताया कि मामला दिल्ली में प्रदूषण बोर्ड में लटका हुआ है। इस पर विधायक सोनू ने कहा कि वे इस मामले में बात करेंगे।

जीएम ने बताया कि इस वर्ष उत्पादन लक्ष्य हासिल करना मुश्किल है। अगले वित्तीय वर्ष में दो माइंस से 10-10 लाख टन कोयला उत्पादन का ब्लू प्रिट तैयार किया गया है। 12 लाख टन उत्पादन होने पर कोलियरी का घाटा मेकअप हो जाएगा। 20 लाख टन उत्पादन पर कोलियरी मुनाफे में आ जाएगी। सोनू ने सीएसआर फंड, मोती मोहल्ला, बालोडिगा, कमलजोर जलापूर्ति योजना आदि पर जानकारी ली। एनपी सिंह बुल्लू ने सीसीएल के वर्कशॉप को डेवलप करने की बातें कही। वार्ता के बाद सोनू ने कहा कि प्रबंधन से वार्ता हुई है। इसमें कोलियरी के विकास के लिए हरसंभव प्रयास किया जाएगा। मौके पर बलराम यादव, मदनलाल विश्वकर्मा, यूनियन नेता ताजउद्दीन, मो. निजामउद्दीन आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस