पीरटांड़ (गिरिडीह) : मांझी परगना बैसी के बैनर तले रविवार को खुखरा थाना क्षेत्र के दुबियाबेड़ा स्कूल मैदान में प्रखंड के एक सौ छप्पन गांवों के मांझी हड़ाम की मौजूदगी में संथाल सामाज के प्रतिनिधियों का सम्मेलन हुआ। मांझीपरगना व्यवस्था लागू नहीं हो पाने पर नाराजगी व्यक्त की गई और इसे लागू करने पर बल दिया गया। बतौर मुख्य अतिथि गिरिडीह के विधायक सुदिव्य कुमार सोनू उपस्थित थे। उन्होंने विधायक निधि से मिलनेवाले फंड से वे यहां के सभी 156 आदिवासी गांवों में मांझी थान बनाएंगे। वर्ष 2024 तक सब गांव में बनकर तैयार हो जाएगा। उन्होंने समाज को राज्य में हेमंत सोरेन की सरकार बनाने में मदद करने पर शुभकामना दी तथा पीरटांड़ के समुचित विकास के लिए लोगों से सहयोग की अपील भी की। इस दौरान सभी मांझीपरगना को हरा गमछा देकर सम्मानित भी किया गया। इस दौरान संथाल समाज के लोगों ने समाज को कुरीतियों को दूर कर नई ऊर्जा के साथ आगे बढ़ाने पर बल दिया।

मौके पर रामलाल सोरेन, चांदोलाल हांसदा, बिरजू मरांडी, तारा बाबू मरांडी, दिलीप मुर्मू, एंथोनी मुर्मू, राजेश सोरेन, महेश मरांडी, सुरेश मरांडी, बाबूराम हेंब्रम के अलावा झामुमो के अंबिका राय, हीरालाल महतो, युवराज महतो, ताज हुसैन, आशुतोष दूबे, प्रकाश तिवारी आदि लोग शामिल थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस