Move to Jagran APP

Jharkhand Crime News: शादी के लिए तैयार नहीं हुई प्रेमिका, तो कर दी हत्या; शव को किया आग के हवाले

29 अप्रैल को तालझारी थाना की पुलिस ने बरमासा के सीमागढ़ा पहाड़ से एक किशोरी का कंकाल बरामद किया था। इस किशोरी की हत्या करने वाले आरोपित किशोरी के प्रेमी पिंकू मंडल उर्फ छोटू को गिरफ्तार कर पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। युवक ने शादी से इंकार करने पर दो दिन तक युवती को पहाड़ पर बांधकर रखा और उसके साथ दो दिनों तक दुष्कर्म करता रहा।

By Anoop Kumar Srivastava Edited By: Shoyeb Ahmed Published: Mon, 06 May 2024 09:05 PM (IST)Updated: Mon, 06 May 2024 09:05 PM (IST)
पुलिस अधीक्षक सभागार में सेामवार को हत्यारे के बारे में जानकारी देते एसपी पीतांबर सिंह खेरवार

संवाददाता जागरण, दुमका। 29 अप्रैल को तालझारी थाना की पुलिस ने बरमासा के सीमागढ़ा पहाड़ से जिस किशोरी का कंकाल बरामद किया था, उस केस का खुलासा करते हुए किशोरी के प्रेमी पिंकू मंडल उर्फ छोटू को गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया।

युवक ने शादी से इंकार करने पर दो दिन तक युवती को पहाड़ पर बांधकर रखा और उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद भी किशोरी शादी के लिए तैयार नहीं हुई तो गला दबाकर हत्या कर दी और शव को एसिड डालकर जला दिया।

आरोपित की निशानदेही पर युवती के कपड़े और बाइक बरामद

पुलिस ने आरोपित की निशानदेही पर युवती के कुछ कपड़ें और युवक की बाइक को बरामद किया है। सोमवार को पुलिस सभागार में एसपी पीतांबर सिंह खेरवार ने बताया कि घरवालों ने किशोरी की शादी देवघर में तय कर दी थी।

29 अप्रैल को उसकी बारात आनी थी। बरमासा गांव का पिंकू मंडल किशोरी से प्रेम करता था। जब उसे शादी तय होने की बात पता चली तो उसने किशोरी पर शादी का दबाव डाला।

किशोरी को दो दिन तक जंगल में बनाया बंधक

युवक ने 25 अप्रैल को मिलने के बहाने पर पहाड़ पर बुलाया। किशोरी भी शौच के बहाने उससे मिलने के लिए चली गई। पहुंचने के बाद युवक ने उससे कहा कि वह इस शादी के लिए मना कर दे, लेकिन वह इसके तैयार नहीं हुई।

उन्होंने कहा कि पिता ने शादी तय कर दी है, इसलिए घरवालों की मर्जी के खिलाफ नहीं जाएगी। किशोरी को दो दिन तक जंगल में बंधक बनाकर रखा और 27 अप्रैल की शाम उसकी गला दबाकर हत्या कर दी।

साक्ष्य छुपाने के लिए शव को एसिड डालकर जला दिया। मौके पर एसडीपीओ विजय महतो, डीएसपी अमित रविदास व तालझारी थाना प्रभारी अजीत कुमार मौजूद थे।

दो दिनों तक करता रहा दुष्कर्म

एसपी ने बताया कि शादी से इंकार करने पर पिंकू ने युवती को रस्सी से बांध दिया और दो दिन तक लगातार उसके साथ गलत काम करते रहा। वह गलत काम करने के बाद अपने घर चला आता था और दूसरे दिन फिर जाकर गलत काम करता था।

इसके बाद भी किशोरी नहीं मानी तो गला दबा दिया। बेसुध होने के बाद बाइक पर बैठाकर घटना स्थल से कुछ दूरी पर पेड़ के नीचे ले गया। वहां पहुंचने पर किशाेरी की जब मौत हो गई तो एसिड डालकर जला दिया। जिससे उसने एसिड खरीदा था, उसने बेचने की बात स्वीकार की।

पहले भी गांव में हुआ था समझौता

एसपी ने बताया कि मृतका और प्रेमी के पिता गहरे दोस्त है। दो साल से किशोरी और आरोपित के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। एक बार गांव वालों ने दोनों को एक साथ देख लिया था। इसके बाद गांव के लोगों ने समझौता कराकर मामला शांत करा दिया। इसके बाद भी युवक उसके पीछे हाथ धोकर पड़ा रहा।

पिता ने दर्ज कराया था अपहरण का केस

एसपी ने बताया कि किशोरी के घर वापस नहीं आने पर पिता ने 25 अप्रैल को थाने में बेटी के अपहरण का मामला दर्ज कराया था। इसके बाद एक विशेष टीम का गठन किया गया।

पिता से कई बार पूछताछ की गई, लेकिन उसने प्रेम संबंध की बात स्वीकार नहीं की। अनुसंधान में जब इस बात का पता चला तो इस बिंदु को फोकस मानकर जांच की गई तो सारी बात सामने आ गई।

अब चलेगा, हत्या व दुष्कर्म का मामला

आरोपित पर पहले से किशोरी के अपहरण का मामला दर्ज था। शव मिलने के बाद हत्या और दो दिन तक दुष्कर्म करने के कारण पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आगे की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

अंतिम संस्कार के लिए करना होगा अभी इंतजार

तालझारी थाना की पुलिस ने 30 अप्रैल को शव को पोस्टमॉर्टम के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया था। चिकित्सक ने जांच करने के बाद शव को दस दिन तक सुखाने का निर्देश दिया ताकि अच्छी तरह से सूख जाने के बाद उसका डीएनए लिया जा सके।

डीएनए की मदद से पुलिस यह जानने का प्रयास करेगी कि पिता ने जिस कपड़ों से शव की शिनाख्त की है, वास्तव में वह उनकी ही पुत्री है। इसलिए अभी स्वजन को कंकाल का अंतिम संस्कार करने के लिए कुछ दिन करीब छह दिन का इंतजार करना होगा।

ये भी पढे़ं-

Bokaro News : मामा की शादी में गई 8 साल की बच्ची के साथ दरिंदगी के बाद हत्या, झाड़ी में मिला शव

Gumla News : मतांतरित मां ने बेटे की चर्च में कराई शादी, रिश्तेदारों ने काटा बवाल; दूल्हे ने खुलकर बताई असली बात


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.