बासुकीनाथ : प्रसिद्ध बरदानीनाथ मंदिर परिसर में चार दिवसीय लक्ष्मीनारायण चातुर्मास महायज्ञ को लेकर शुक्रवार को भव्य कलश शोभायात्रा निकलेगी। इस कलश शोभायात्रा में 251 सुहागिन महिलाएं गाजे-बाजे के साथ शामिल होंगी और मोतिहारा नदी तट से कलश भरकर नवनिíमत नौ कुंडीय यज्ञशाला में आकर कलशों को स्थापित करेंगी। इसके बाद वरदानी नाथ मंदिर प्रांगण में निíमत नौ कुंडीय यज्ञशाला में विधि विधान से विभिन्न वेदी की पूजा-अर्चना की जाएगी। प्रधान पूजा के बाद लक्ष्मीनारायण चातुर्मास महायज्ञ में देवताओं को हवन की आहुतियां प्रदान की जाएंगी। यह महायज्ञ आगामी 12 नवंबर तक चलेगा। महायज्ञ की पूर्णाहुति के बाद लक्ष्मीनारायण चातुर्मास का समापन धूमधाम से किया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप