संवाद सहयोगी, जामा: आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में रविवार को जामा थाना में छह नामजद सहित 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ शनिवार की देर शाम प्राथमिकी दर्ज की गई है। गुरुवार को जामा चौक पर आदिवासी सेंगेल अभियान के कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए प्रदर्शन के खिलाफ यह कार्रवाई की गई है। अभियान के सदस्यों ने आदर्श आचार संहिता लागू होने के बावजूद भीड़ लगाकर सड़क मार्च करते हुए जामा चौक पर सभा की थी। इस दौरान राज्यपाल, मुख्यमंत्री समेत आदिवासी सांसद-विधायकों का पुतला दहन किया था।

जामा थाना की पुलिस ने इस मामले में सुनील मुर्मू, कमिश्नर मुर्मू, अमर मरांडी, पंकज हेंब्रम, सुशील कुमार टुडू, शिवराम को आरोपित बनाया है।

हेमंत सरकार आदिवासी विरोधी: इधर, आदिवासी सेंगेल अभियान के केंद्रीय संयोजक विमो मुर्मू ने कहा कि हेमंत सरकार आदिवासी विरोधी है। कहा कि कार्यकर्ताओं पर प्राथमिकी दर्ज करना दमनकारी नीति है। सरकार की नीतियों का विरोध जारी रहेगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस