जागरण संवाददाता, दुमका: दुमका विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर रविवार को समाहरणालय सभागार में तैयारियों की समीक्षा की गई। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त राजेश्वरी बी ने सेक्टर पदाधिकारियों के साथ बैठक में सभी मतदान केंद्रों में आवश्यक मूलभूत सुविधाओं को उपलब्ध कराए जाने के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कहा कि पारदर्शी और शांतिपूर्ण मतदान के लिए प्रशासनिक स्तर पर तमाम तैयारियां की जा रही है। विधानसभा क्षेत्र में इस बार कुल 368 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इस बार के चुनाव में विधानसभा क्षेत्र के कुल 2,50,720 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। विधानसभा उपचुनाव के लिए 46 सेक्टर का गठन किया गया है।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि विधानसभा उपचुनाव में सेक्टर मजिस्ट्रेट व सेक्टर पदाधिकारियों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है, इसलिए सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट पूरी गंभीरता से निर्वाचन आयोग द्वारा दिए दिशा-निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित कराएं।

सामान्य प्रेक्षक देवदत्त शर्मा ने सेक्टर पदाधिकारियों को उनके दायित्वों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। सेक्टर पदाधिकारियों को अपने आवंटित मतदान केंद्रों का भ्रमण करते रहने का भी निर्देश दिया। कहा कि मतदान केंद्रों पर मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हैं या नहीं, इसका समय-समय पर जायजा लेते रहें। विधि-व्यवस्था से संबंधी सूचनाएं भी संग्रह करने को कहा। प्रेक्षक ने सेक्टर पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि आवश्यक सूचनाएं संग्रह कर निर्वाची पदाधिकारी और जिला निर्वाचन पदाधिकारी को इससे अवगत कराएं।

बैठक में बताया गया कि उपचुनाव के संचालन एवं निर्वाचन संबंधी विभिन्न कार्यो को सुचारू ढंग से संचालित करने के लिए जिला नियंत्रण कक्ष दुमका में हेल्पलाइन जन शिकायत कोषांग का गठन किया गया है। उपचुनाव के दौरान आमजनों से शिकायत प्राप्त करने के लिए दो मोबाइल नंबर तथा एक लैंडलाइन नंबर भी जारी किया गया है।

मौके पर पुलिस अधीक्षक अंबर लकड़ा, उप विकास आयुक्त डॉ संजय सिंह आदि मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस