दुमका : नोनीहाट- दुमका मुख्य मार्ग पर गजम्बा गांव के समीप रविवार को अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार 40 वर्षीय भाजपा नेता स्वरूप मांझी की मौत हो गई, वहीं साथी बुलू कापरी घायल हो गया। बुलू का शहर के एक निजी क्लीनिक में इलाज चल रहा है। पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने स्वरूप के शव को परिजन को सुपुर्द किया। हादसे के बाद वाहन चालक गाड़ी लेकर भागने में सफल रहा। मृतक जामा विधानसभा कोर कमेटी के सदस्य थे। मौत की जानकारी मिलने पर सांसद सुनील सोरेन ने पोस्टमार्टम हाउस व घर जाकर श्रद्धांजलि अíपत की।

रामगढ़ प्रखंड के बौंडिया गांव के रहनेवाले स्वरूप मांझी बाइक से गांव के एक अन्य साथी बुलू कापरी को लेकर सांसद सुनील सोरेन से मुलाकात करने के लिए जामा स्थित उनके आवास जा रहे थे। गांव के समीप किसी अज्ञात वाहन ने बाइक में ठोकर मार दी। जिस कारण वह दूर जा गिरे और सिर का पिछला हिस्सा पत्थर से टकराने के कारण बुरी तरह घायल हो गए। परिजन व ग्रामीणों की मदद से दोनों को सदर अस्पताल लाया गया। डॉक्टरों ने स्थिति नाजुक देख स्वरूप को बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया। एंबुलेंस से परिवार के सदस्य दुर्गापुर ले जा रहे थे लेकिन नाला से कुछ दूर उनकी मौत हो गई। इसके बाद परिजन शव लेकर अस्पताल आए। वहीं घायल बुलू का शहर के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

..

दहाड़ मारकर रो रही थी मां, पत्नी के सूख गए आंसू

रामगढ़ : हादसे में स्वरूप मांझी की मौत के बाद करीब तीन बजे पोस्टमार्टम के बाद उनका शव गांव पहुंचा तो एक झलक पाने के लिए घर में ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी। मां निधुवाला दासी दहाड़ मारकर रोने लगी। पत्नी पूनम देवी बार-बार बेहोश हो रही थी। कई महिला उन्हें लगातार पंखा के माध्यम से हवा दे रही थी। सुबह से ही पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल था। दोपहर तक रो-रोकर उनके आंसू सूख चुके थे। मृतक का 12 वर्षीय प्रशांत एवं आठ वर्षीय राकेश भी पिता का शव देखकर रो रहा था। उन्हें इस बात का आभास हो गया था कि अब पापा दुनिया में लौटकर कभी नहीं आनेवाले हैं। हर कोई बेटों को हिम्मत देने का प्रयास कर रहा था। वहीं 65 वर्षीय पिता अवनीधर मांझी बार-बार कह रहे थे कि भगवान ने उनके जीने का सहारा छीन लिया। उनके मरने से पहले भगवान ने दोनों बेटा को अपने पास बुला लिया। अवनीधर के एक पुत्र की 15 वर्ष पूर्व मौत हो गई थी। रविवार को दूसरे बेटे की भी मौत हो गई।

..

मुझे सांसद बनाकर खुद दुनिया से चला गया : सुनील

..

संवाद सहयोगी, रामगढ़ : रविवार को सड़क दुर्घटना में हुई भाजपा नेता स्वरूप मांझी की मौत की खबर सुनकर दुमका सांसद सुनील सोरेन भी आंसू नहीं रोक पाए। उनकी मौत की खबर सुनकर वह पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे। इसके बाद शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद शव के साथ घर बौंड़िया आए। मृत भाजपा नेता का सांसद से काफी नजदीकी संबंध था। परिवार को सांत्वना देते हुए सांसद ने कहा कि दुख की इस घड़ी में पूरा भाजपा परिवार उनके साथ है। मृतक के पिता अवनीधर मांझी से कहा कि वह आपके लिए हर समय तैयार रहता था। अब आपको पूरा परिवार की देखरेख करनी होगी। कहा कि स्वरूप मांझी भाजपा के काफी सक्रिय कार्यकर्ता थे। रात के 12 बजे भी वह उनके एक फोन पर पहुंच जाते थे। उन्हें सांसद बनाने में उन्होंने काफी मेहनत की थी। उनके यादों को बताते हुए सांसद के आंसू छलक गए। कहा कि मुझे सांसद बनाकर खुद इस दुनिया से चला गया। परिवार को किसी प्रकार की कठिनाई नहीं होने दी जाएगी। भाजपा के सच्चे सिपाही की भरपाई कभी भी नहीं हो सकेगी।

..

ओबीसी मोर्चा ने शोकसभा कर दी श्रद्धांजलि

..

संवाद सहयोगी, रामगढ़ : रामगढ़ के प्लस टू उच्च विद्यालय में रविवार को आयोजित ओबीसी संघर्ष मोर्चा के सदस्यों ने भाजपा नेता स्वरूप मांझी की सड़क दुर्घटना में हुई मौत पर गहरी संवेदना प्रकट की। पहले से उनके मौत पर बैठक को स्थगित करने का निर्णय लिया गया लेकिन बाहर से कई लोग के आ जाने के कारण बैठक की। बैठक के उपरांत शोकसभा कर मृतक की आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा।

..

ग्रामीणों ने की सांसद से शराब बंद कराने की मांग

..

संवाद सहयोगी, रामगढ़ : हंसडीहा-दुमका मुख्य मार्ग पर प्रतिदिन हो रहे सड़क दुर्घटना को रोकने के लिए बौंड़िया के ग्रामीणों ने सांसद सुनील सोरेन पर इस मार्ग पर बिकनेवाले शराब पर रोक लगाने की मांग की है। ग्रामीणों ने बताया कि बिहार में शराब बंद होने के कारण बिहार से आनेवाली सभी बड़े वाहन को ड्राइवर झारखंड सीमा में प्रवेश करते ही वाहन को साइड कर पहले शराब का सेवन करते हैं उसके बाद काफी तेज रफ्तार से शराब के नशे में वाहन चलाते हैं। जिसके कारण इन दिनों प्रतिदिन इस मार्ग पर सड़क दुर्घटना में किसी न किसी व्यक्ति की मौत हो रही है। सांसद ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि वह जिला प्रशासन से बात कर इस पर रोक लगाने का प्रयास कराया जाएगा।

Posted By: Jagran