जागरण संवाददाता, धनबाद। आज 27 सिंतबर, 2021 को भारत है। संयुक्त किसान मोर्चा ने बंद का आह्वान किया है। इसका तमाम भाजपा विरोधी दलों ने समर्थन किया है। यह आयोजन तीन नए कृषि कानूनों को रद करने की मांग को लेकर किया गया है। झारखंड में सत्ताधारी झामुमो गठबंधन ने बंद का समर्थन किया है। बंद को सफल बनाने के लिए धनबाद, बोकारो, गिरिडीह, जामताड़ा, देवघर, दुमका, साहिबगंज, गोड्डा, पाकुड़ में सुबह से ही झामुमो, कांग्रेस, राजद और वाम दलों के कार्यकर्ता सक्रिय दिख रहे हैं। हालांकि बंद का फिलहाल कोई खास असर नहीं दिख रहा है।

गिरिडीह में सड़कों पर उतरे झामुमो समर्थक

गिरिडीह में बंद को सफल बनाने के लिए सुबह ही झामुमो कार्यकर्ता सड़क पर उतर गए। कार्यकर्ताओं ने गिरिडीह रेलवे स्टेशन पर जाकर गिरिडीह-मधुपुर पैसेंजर ट्रेन को रोकने की कोशिश की। आरपीएफ ने बंद समर्थकों को रेलवे स्टेशन से बाहर कर दिया। इसके बाद बंद समर्थक गिरिडीह चाैक पर पहुंचे। लोगों से दुकानें बंद करने की अपील की।

धनबाद में बंद का असर नहीं

धनबाद में भारत बंद का फिलहाल असर नहीं दिख रहा है। सुबह दुकान-बाजार खुले हुए हैं। सड़कों पर वाहनों का परिचालन जारी है। 

कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने बंद के समर्थन में की अपील

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार धनबाद जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में देश में अपने संप्रभुता धर्मनिरपेक्षता समाजवादी और लोकतांत्रिक अधिकारों की रक्षा के लिए केंद्र सरकार की विरुद्ध भगत सिंह चौक के निकट जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से मशाल जुलूस निकाली गई।मौके पर जिलाध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार सभी मोर्चे पर विफल रही है । केंद्र सरकार के गलत नीतियों के कारण किसान, मजदूर ,छोटे व्यवसायी युवा बेरोजगार सभी त्रस्त एवं परेशान है। उन्होंने शहरवासियों से भारत बंद के लिए समर्थन मांगते हुए कहा कि यह केवल किसानों की लड़ाई नहीं है बल्कि सभी देशवासियों की लड़ाई है। इसमें सभी अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें।

 

Edited By: Mritunjay