विसं, धनबाद। झरिया के पूर्व विधायक संजीव सिंह की पत्नी झारखंड प्रदेश भाजपा कार्यसमिति सदस्य रागिनी सिंह के काफिले में अचानक एक फोर्च्यूनर कार घुस गई। उसने रागिनी की कार में जोरदार टक्कर मार दी। एकबारगी रागिनी सिंह के समर्थको को लगा कि हमला हो गया है। वह तुंरत अलर्ट मोड में आ गए। कार का पीछा कर चला रहे युवक को पकड़ा। फिर उसकी जमकर पिटाई की। इसके बाद बैंक मोड़ थाने के हवाले कर दिया। रागिनी सिंह को विरोधियों से जान का खतरा है। इसलिए समर्थकों ने तुंरत मामले को गंभीरता से लिया। हालांकि बाद में पता चला कि युवक ने काफिले से आगे निकलने की होड़ में टक्कर मार दी थी। 

पिटाई के बाद पुलिस ने कराया इलाज

बैंक मोड़ के समीप बुधवार की रात भाजपा नेत्री रागिनी सिंह के वाहनों के काफिला के आगे सरायढेला निवासी सुमन सिंह उर्फ सत्यम युवक की गाड़ी आ गई। इससे नाराज उनके समर्थकों ने युवक की पिटाई कर दी। इस दौरान बीच सड़क पर काफी देर तक हंगामा हुआ। बाद में समर्थकों ने उसे बैंक मोड़ पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने घायल सुमन को इलाज के लिए पाटलिपुत्र नर्सिंग होम में भर्ती कराया है। बाद में दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया व किसी भी पक्ष ने थाने में कोई लिखित शिकायत नहीं की।

क्या है मामला

भाजपा नेत्री रागिनी सिंह बुधवार की रात झरिया से सरायढेला लौट रही थी। वहीं सुमन बैंक मोड़ से सरायढेला जा रहा था। रागिनी के वाहन के पीछे उनके समर्थकों के तीन वाहन थे। रे टाकीज के पास सुमन ने रागिनी ङ्क्षसह के काफिला के बीच अपनी गाड़ी ओवरटेक कर निकलने की कोशिश की। इस दौरान रागिनी सिंह के वाहन में ठोकर लग गई। इसके बाद रागिनी सिंह के समर्थकों ने उसे रोककर पिटाई कर दी। जब सुमन के स्वजनों व उसके दोस्तों की इस बात की जानकारी मिली तो वे भी बैंक मोड़ थाने पहुंच गए। बाद में जब रागिनी सिंह व उनके समर्थकों को पता चला कि सुमन भी सरायढेला का रहनेवाला है तो दोनों पक्षों ने आपस में समझौता कर लिया।

रागिनी सिंह के वाहन में हल्की ठोकर लगी थी। इसके बाद उनके समर्थकों ने फाच्र्यूनर सवार सुमन के साथ मारपीट की। घायल सुमन को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों पक्षों की तरफ से किसी ने कोई शिकायत नहीं की है।

-रणधीर सिंह, बैंक मोड़ थाना प्रभारी

Edited By: Mritunjay