भूली, सौरभ पांडेय। भूली की किशोरी की आठवीं की परीक्षा नजदीक थी। फिर भी वह हमेशा मोबाइल से पटना में रहने वाले किसी लड़के से बात करते रहती थी। माता ने डांट दिया तो किशोरी घर से भाग गई। घर की दहलीज लांघने का नतीजा हुआ कि अब वह बिहार के नवादा में सेक्स रैकेट के चंगुल में फंस चुकी है। सेक्स रैकेट में शामिल लोग किशोरी को कोलकाता में बेचने की कोशिश में हैं। उसी सेक्स रैकेट के चंगुल से एक और लड़की भाग निकली है। वह भूली आई। पीडि़ता के घर वालों को सारी कहानी बताई। सारा मसला भूली पुलिस तक जा चुका है। अब तक पुलिस खामोश हैं, तो दूसरी तरफ पीडि़ता की माता के क्रंदन की आवाज इतनी गूंज रही है कि किसी की भी आंखें भर जा रही है।

सेक्स रैकेट के चंगुल से भाग कर भूली आई एक युवती ने परिजनों के अलावा पुलिस को बताया कि एक सप्ताह पहले वह नवादा में पीडि़ता से मिली थी। पीडि़ता को जबरन शराब पिलाया गया, नशा के कुछ और सामान खिलाए गए। इसके बाद देह व्यापार कराया गया। युवती ने घर वालों को बताया कि पीडि़ता का दुख देखा नहीं गया तो उसने दलदल से निकालने का फैसला किया। एक ग्र्राहक के पास ले जाने की बात कह पीडि़ता को लेकर वह नवादा से रांची आई। रांची से बस से धनबाद आने के लिए दोनों चली। सेक्स रैकेट में शामिल प्रिंस नामक युवक नवादा से उन लोगों का पीछा कर रहा था। बस पड़ाव पर वह अचानक आ गया। पीडि़ता को डरा धमका कर साथ ले गया। युवती ने बताया कि उस वक्त उसके पास पीडि़ता का मोबाइल था। वह भाग कर बाथरुम में घुस गई थी। प्रिंस उसे खोज नहीं सका। मोबाइल में पीडि़ता के भाई का टेलीफोन नंबर था। संपर्क कर वह भूली आई।

पीडि़ता को कोलकाता के सोनागाछी में बेचने की कोशिशः भाग कर भूली आई युवती ने बताया कि पीडि़ता को कोलकाता के सोनागाछी में बेचने की कोशिश हो रही है। उसने पुलिस को बता दिया है। अगर पुलिस सहयोग करे तो सेक्स रैकेट के सारे ठिकाने तक जा सकती है। अफसोस यह है कि पुलिस रुचि नहीं दिखा रही है।

आधार कार्ड होता तो तीन साल पहले ही बिक जातीः भूली आई युवती ने बताया कि वह तीन साल पहले इस दलदल में फंस गई थी। पार्लर में रोजगार दिलाने के नाम पर प्रिंस ने उसे झांसा दिया था। उसे कोलकाता ले जाकर बेचने की कोशिश की गई थी। अब आधार कार्ड या कोई दस्तावेज होना अनिवार्य कर दिया गया है। इसी वजह से कोलकाता की मंडी में उसका सौदा नहीं हो सका था। 

भाग कर आई सहेली को जान से मारने की धमकीः भाग कर आई युवती को उसके मोबाइल पर कॉल कर जान से मारने की धमकी दी जा रही है। उसने बताया कि जब से वह भागी है तब से उसे लगातार कॉल आ रहे हैं। पुलिस ने मदद नहीं की तो शायद उसे जान से मार दिया जाएगा। 

प्राथमिकी दर्ज हो चुकी है। पीडि़ता की सहेली ने जो सूचना दी है, उसका सत्यापन किया जा रहा है। पुलिस सारे बिंदुओं पर जांच कर रही है। अगर पीडि़ता सेक्स रैकेट के चंगुल में है, तो उसे जल्द बचाया जाएगा। 

-मुकेश कुमार, डीएसपी, लॉ एंड ऑर्डर 

Posted By: mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस