जागरण संवाददाता, धनबाद : जिले के सदर अस्पताल एवं हर प्रखंड में एक मॉडल हेल्थ सेंटर बनाकर सुदूरवर्ती क्षेत्र में लोगों को आधुनिक चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराने के उद्देश्य को लेकर गुरुवार को समाहरणालय में बैठक हुई। इस दौरान उपायुक्त ने बताया कि विजन प्लान के अंतर्गत हर प्रखंड में एक मॉडल स्वास्थ्य केंद्र बनेगा, जो चौबीसों घंटे काम करेगा। यहां सभी प्रकार की मूलभूत सुविधा होगी। टेलीमेडिसिन के द्वारा विशेषज्ञ चिकित्सकों का परामर्श, मानसिक परामर्श की व्यवस्था होगी। साथ ही उन्होंने बताया कि सदर अस्पताल को मल्टीस्पेशियलिटी अस्पताल का रूप दिया जाएगा। सदर को स्टेट ऑफ द आर्ट अस्पताल बनाने हेतु नवीकरण करना है। इसके भवन को निजी अस्पतालों की तर्ज पर खूबसूरत बनाना है। उन्होंने सभी अभियंताओं से अनुभवी डिजाइनर एवं आर्किटेक्ट से कार्य करवाने का निर्देश दिया दिया। सदर में मेडिसिन, डेंटल, सर्जरी, ऑर्थोपेडिक के लिए ओपीडी होगी। एनआईसीयू तथा आईसीयू के बेड होंगे और यह जीवन रक्षक उपकरणों से लैस होगा। साथ ही सभी तरह के पैथोलॉजिकल टेस्ट, कोविड-19 वैक्सीनेशन के साथ-सथ महिला एवं पुरुषों के लिए जनरल बेड, ऑपरेशन थिएटर, महिला एवं पुरुष के लिए रिकवरी रूम, जेनेरिक दवाओं की दुकान, जन औषधि केंद्र एवं डिसपेंसरी भी होगी।

स्वास्थ्य केंद्रों में भी बेहतर होंगे सेवा व संसाधन : इस दौरान स्वास्थ्य केंद्रों में पहुंच पथ, टीकाकरण केंद्र, शौचालय, ओपीडी भवन, मुख्य भवन, वर्षा जल संचयन, दो एवं चार पहिया वाहनों की पार्किंग, पेभर ब्लॉक, गार्ड रूम, चहारदीवारी, रूफटॉप सोलर सिस्टम, प्रकाश की व्यवस्था, प्रतिक्षालय, जन औषधि केंद्र, चिकित्सकों, पारा मेडिकल कर्मियों एवं अन्य कर्मियों हेतु आवास की व्यवस्था, पार्क, कैफेटेरिया इत्यादि हेतु नए निर्माण तथा नवीकरण सहित विभिन्न बिदुओं पर विचार-विमर्श किया गया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021