जासं, धनबाद: जदयू नेता रुपेश सिन्हा हत्याकांड में केस डायरी से छेड़छाड़ करने वाले दारोगा दिनेश कुमार राणा को धनबाद थाना की पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर पायी है।कोर्ट के आदेश के बाद भी दारोगा दिनेश कुमार राणा न्यायलय में पेश नहीं हो रहा है। कोर्ट ने दारोगा के खिलाफ कुर्री वारंट भी जारी कर रखा है मगर धनबाद थाना की पुलिस ने आज तक उसके घर पर कुर्की जब्ती भी नहीं की। इस पर कोर्ट ने दोबारा धनबाद थाना की पुलिस को आदेश दिया है कि जल्द मामले को गंभीरता से लेते हुए कुर्की वारंट को तामिला करवाएं।गौरतलब हो कि बिनोद नगर मोड़ पर चार मार्च 2008 को जदयू नेता रुपेश सिन्हा की गोली मार कर हत्या कर दी गयी थी। इस हत्याकांड में पुलिस धनसार निवासी कालीचरण महतो उर्फ कालिया को आरोपी बनाया था। बाद में इस कांड में हाउसिंग कालोनी निवासी महेंद्र यादव का भी नाम आया था। कांड के आइयो दारोगा परीक्षण दास के तबादले के बाद दिनेश कुमार राणा को इस कांड का आइयो बनाया गया था।

पुलिस डायरी से छेड़छाड़ करने का दर्ज हुआ था मामला: दारोगा दिनेश कुमार राणा पर केस डारी में छेड़छाड़ कर गवाह लखन यादव का बयान बदल देने का आरोप था। डायरी में छेड़छाड़ कर आरोपियों को मदद पहुंचाने की बात थी। यह मामला सामने आने के बाद उसे बर्खास्त कर धनबाद थाना में चार जून 2010 को मामला दर्ज किया गया था। वर्ष 2011 में कोर्ट से दिनेश के खिलाफ वारंट भी जारी किया गया था। इस मामले में धनबाद थाना की पुलिस दिनेश के गांव आरा में छापामारी की थी। मगर उसके बाद फिर से उसकी तलाश नहीं की गयी। वर्ष 2012 में कुर्की वारंट जारी किया गया मगर पुलिस आज तक कुर्की भी तामिला नहीं कर पायी। दिनेश के सिर्फ न्यायलय में उपस्थित होने के लिए अब तक 36 डेट पड़ चुके है। लेकिन वह हाजिर नहीं हआ। वहीं पुलिस भी कुछ नहीं कर पायी।

Edited By: Atul Singh