धनबाद, जेएनएन। जिला चैंबर ऑफ कॉमर्स का चुनावी संग्राम अपने चरम पर है। ऐसे में हर दिन समीकरण बन और बिगड रहे हैं। स्थिति यह है कि अध्‍यक्ष पद के दोनों दावेदार चेतन गोयनका और राजीव शर्मा अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए पूरी मेहनत कर रहे हैं। दोनों उम्‍मीदवार चैंबर मतदाताओं को अपने पक्ष में रिझाने में लगे हुए हैं। शुक्रवार को नाम वापसी का अंतिम दिन है। वहीं, महासचिव पद के चार में से दो उम्‍मीदवार अपना नामांकन वापस ले सकते हैं। जबकि अध्‍यक्ष पद को लेकर भी स्थितियां बदल रही है।

चैंबर सूत्रों की मानें तो गुरुवार की देर रात तक दोनों धडों की ओर से बैठकों को दौर चला है। शुक्रवार की सुबह से ही जोड़-तोड़ और जीत-हार का गुणा भाग किया जा रहा है। पुराने खिलाडियों की बैठकों में कम उपस्थिति हो रही है। जो चिंता का कारण बनी हुई है। वहीं नए सुरमा के पक्ष में व्‍यापारी जुट रहे हैं। बैंक मोड चैंबर के प्रभात सुरोलिया ने कहा कि व्‍यापारियों के हित में काम करने वाले का साथ वे देंगे।

व्‍यवसायी से रंगदारी का मामला हो रहा हावी : चैंबर चुनाव में व्‍यापारियों की सुरक्षा का मामला हावी होता जा रहा है। व्‍यवसायियों को मुक्‍कमल सुरक्षा प्रदान कराने वाले का साथ देने की तैयारी हो रही है। पिछले दिनों जिले के छ: व्‍यवसायियों से रंगदारी मांगे जाने के मामले को लेकर भी चैंबर की नाराजगी खुलकर सामने आयी थी। ऐसे में चैंबर चुनाव में यह मामला पहले पायदान पर है।

Posted By: Sagar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस