संस, चासनाला : पूर्व मध्य रेल धनबाद मंडल के डीआरएम आशीष बंसल शुक्रवार को पाथरडीह रेलवे यार्ड, पीपी केबिन, मार्शलिग यार्ड, सिक लाइन आदि जगहों का दौरा किया। डीआरएम पीपी केबिन के नीचे पुल से सुदामडीह रेल लाइन साउथ ईस्टर्न सीमा क्षेत्र तक का निरीक्षण किया। पाथरडीह से सेल के चासनाला टासरा रेलवे साइडिग जानेवाली रेलवे लाइन पर हो रहे पानी के जमाव को देखकर डीआरएम अधिकारियों पर भड़क गए। रेल अधिकारियों को फटकार लगाई। यहां की जगह को शीघ्र दुरुस्त करने का निर्देश दिया। पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए डीआरएम ने कहा कि यह यह रूटीन निरीक्षण था। पाथरडीह सेंट्रल केबिन के पास रेलवे यात्रियों की सुविधाओं के लिए दो मंजिला नया पाथरडीह बाजार स्टेशन बनाया जा रहा है। यह एक माह के अंदर बन कर तैयार हो जाएगा। कहा कि नई आधुनिक तकनीक के आधार पर रेल लाइनों को इंटरलाकिग सिस्टम से युक्त किया जा रहा है। इससे दुघर्टना शून्य हो जाएगी और रेलवे को लाभ होगा। कहा कि पाथरडीह रेलवे की जमीन और आवासों को कब्जाधारी स्वयं खाली कर दें। अभियान आगे भी जारी रहेगा। पाथरडीह कोल वाशरी स्थित मोनेट कोल वाशरी में कोयला लोड रैक को पोकलेन मशीन से खाली कराने के सवाल पर कहा कि कोल वाशरी प्रबंधन से रैक अनलोडिग के दौरान जो भी रैक डैमेज होंगे। उसकी क्षतिपूर्ति उक्त कंपनी से ली जाएगी। इस दौरान ईसीआरकेयू के सचिव केके सिंह ने रेल कर्मियों की पांच सूत्री मांगों को लेकर उन्हें पत्र दिया। पत्र में पाथरडीह लोको बाजार की जर्जर रेल आवासों की मरम्मत, बिजली की लचर व्यवस्था में सुधार करने आदि मांगें शामिल हैं। डीआरएम के साथ रेल अधिकारी जेपी सिंह, पंकज कुमार, हरीश कुमार, एके पांडेय, विनोद पांडेय आदि थे।

Edited By: Jagran