पूर्वी टुंडी : जहां एक ओर स्वच्छ भारत मिशन को बढावा देने एवं क्षेत्र को खुले में शौच से मुक्त बनाने के लिए प्रखंड के हर पंचायत में जोरों पर शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। वहीं दूसरी प्रखंड के रूपन पंचायत के धनारंगी गांव में लोगों में जागरूकता के अभाव में शौचालय का प्रयोग नहीं किया जा रहा है। गांव के दर्जनभर शौचालय जर्जर हालत में पड़े हुए है। जिससे पता चलता है कि किस प्रकार सरकारी पैसे का दुरुपयोग हुआ है। साथ ही लोग स्वच्छता के प्रति कितने सजग है। इसका अंदाजा लगाया जा सकता है।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस