दिनेश माहथा, टुंडी : मनियाडीह थाना क्षेत्र डंडाटांड़ के जोजवाडीह में नदी किनारे जंगली मैदान में नक्सली कमांडर कृष्णा हांसदा के नेतृत्व में बड़ी बैठक होने की चर्चा है। कृष्णा के दस्ते ने इस इलाके में बड़ी बैठक की है। इस क्षेत्र में नक्सलियों की बढ़ती सक्रियता से स्थानीय ग्रामीण डर के मारे कुछ बताने से इंकार कर रहे हैं। चर्चा है कि बैठक में कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। नक्सली किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की भी फिराक में हैं।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की रात दस बजे के बाद गिरिडीह पीरटांड़ के रास्ते नक्सली कमांडर कृष्णा हांसदा पहुंचा और उसकी अगुवाई में बैठक हुई। बैठक में शीर्ष नेता किशन दा व उसकी पत्नी मनियाडीह नवाटांड़ निवासी शीला मरांडी की गिरफ्तारी पर जमकर आक्रोश व्यक्त किया गया। बैठक में पुलिस मुखबिरों पर कार्रवाई करने की भी घोषणा की गई। कई नामचीन मुखबिरों के बारे में बैठक में चर्चा हुई।

मनियाडीह के सर्रा बराकर नदी घाट व गुलियाडीह बराकर नदी घाट से हर दिन पचास हाइवा व दो सौ ट्रैक्टर अवैध बालू का उठाव और शाम पांच बजे से लेकर सुबह छह बजे तक पुलिस द्वारा हर दिन लाखों की उगाही करने पर भी चर्चा की गई।

बैठक को लेकर खुफिया विभाग ने प्रशासन को सतर्क रहने का अलर्ट जारी कर दिया है।

नक्सलियों की बैठक में शिक्षित बेरोजगार युवाओं व युवतियों को संगठन में जोड़ने पर जोर दिया गया। बैठक में पीरटांड़ व मनियाडीह क्षेत्र के बड़ी संख्या में लोगों के जुटान की चर्चा जोरों पर है। बैठक समाप्त होने के बाद हथियारबंद नक्सलियों द्वारा कई चक्र फायरिग की भी चर्चा है।

इस संबंध में डीएसपी अरविद कुमार सिंह ने कहा कि उन्हें नक्सलियों की कोई जानकारी नहीं है। अपने स्तर से इस मामले की जानकारी लेने का प्रयास कर रहे हैं।

Edited By: Jagran