संवाद सहयोगी, देवरी(गिरिडीह)। अस्पताल ले जाने के क्रम में रास्ते में प्रसव होने से जच्चा-बच्चा की मौत रविवार को मौत हो गई। मृतका देवरी के असको गांव निवासी पवन पासवान की 28 वर्षीय पत्नी रूपा देवी है। बताया जाता है कि रूपा गर्भवती थी। उसका अचानक प्रसव पीड़ा शुरू हुआ तो स्वजन उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र देवरी लेकर गए। जहां चिकित्सक उसकी स्थिति को गंभीर देखते हुए मातृत्व शिशु इकाई चैताडीह रेफर कर दिया। वहां भी डाक्टरों ने रूपा की गंभीर स्थिति को देख धनबाद के स्थिति अच्छे अस्पताल में ले जाने की सलाह दी। इसके बाद स्वजन महिला को धनबाद ले जा रहे थे कि रास्ते में ही उसका प्रसव हो गया।

एसएनएमसीएच धनबाद पहुंचने के बाद डाक्टरों ने जब नवजात की जांच कर उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद स्वजन महिला को घर लेकर आ रहे थे कि रास्ते में महिला की भी मौत हो गई। इधर, घटना को लेकर स्वजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। गांव में मातम छाया है।

गर्भवती महिला को प्रसव के लिए अस्पताल लाया गया था। उसकी स्थिति गंभीर थी। यहां पर प्रसव करना संभव नहीं था। जिसके बाद उसे गिरिडीह रेफर किया गया था।

डा. देवव्रत कुमार, प्रभारी चिकित्सा देवरी

Edited By: Mritunjay