मारवाड़ी समाज में प्री-वेडिंग फंक्शन व शादी में सड़क पर महिलाओं के नृत्य पर लगाई जाएगी रोक

धनबाद : झारखंड प्रांतीय मारवाड़ी सम्मेलन का अध्यक्ष निर्वाचित होने के बाद बसंत कुमार मित्तल रविवार को धनबाद पहुंचे। यहां पहुंचने पर समाज के लोगों की ओर से उनका भव्य स्वागत किया गया। वे हीरापुर के अग्रसेन भवन में आयोजित धनबाद जिला मारवाड़ी सम्मेलन की आमसभा में शामिल हुए। दैनिक जागरण से बातचीत में उन्होंने बताया कि प्रांतीय अध्यक्ष बनने के बाद वे कुछ परिपाटी को बंद करने का प्रयास कर रहे हैं। अब मारवाड़ी समाज में प्री-वेडिंग फंक्शन और शादी में काकटेल पार्टी की परिपाटी को पूर्णत: बंद किया जाएगा। राष्ट्रीय मारवाड़ी सम्मेलन के निर्देश पर इसका अनुपालन किया जाएगा। प्री वेडिंग फंक्शन और काकटेल पार्टी सही नहीं है। इसके साथ ही शादी के मौके पर सड़कों पर समाज के महिलाओं के नृत्य पर भी रोक लगाई जाएगी। धार्मिक अनुष्ठान अलग बात है, लेकिन शादी-विवाह में सड़कों पर महिलाओं का नृत्य सही परिपाटी नहीं है।

10 हजार बनाए जाएंगे सदस्य, 200 शाखाएं खुलेंगी

बसंत कुमार मित्तल ने बताया कि झारखंड में 10 हजार नए सदस्य बनाए जाएंगे। इसके अलावा 200 नई शाखाएं खोलीं जाएंगी। राज्य के 24 जिले में अग्रसेन भवन में अपना कार्यालय होगा। इसके अलावा दादी मंदिर और श्याम मंदिर भी बनाए जाएंगे। कार्यालय के लिए अलमीरा आदि सामान संगठन की ओर से दिए जाएंगे। इसकी शुरुआत धनबाद जिले से की जाएगी।

धनबाद में 18 को चुनाव

धनबाद जिला मारवाड़ी सम्मेलन के सत्र 2020-22 की आमसभा अध्यक्ष योगेंद्र तुल्सयान की अध्यक्षता में हुई। संचालन सचिव आरबी गोयल ने किया। कोषाध्यक्ष विवेक पसारी ने वार्षिक लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। धन्यवाद ज्ञापन विनोद पसारी ने किया। आगामी सत्र 2022-24 के लिए नए पदाधिकारियों के चयन के लिए मुख्य चुनाव पदाधिकारी के रूप में सीए ललित झुनझुनवाला एवं अनिल गुप्ता को मनोनीत किया गया। आगामी सत्र के लिए दो प्रत्याशी सुरेंद्र कुमार अग्रवाल एवं कृष्णा अग्रवाल चुनाव मैदान में हैं। 18 अगस्त को चुनाव की तिथि तय की गई। काउंटिंग के बाद शाम को नए अध्यक्ष की घोषणा की जाएगी। बैठक में पूर्व अध्यक्ष बाबूलाल अग्रवाल, शंभूनाथ अग्रवाल, जीतेंद्र अग्रवाल, अनिल मुकीम, डीएन चौधरी, राजेश रिटोलिया, संतोष जालान, श्रवण खेतान, प्रदीप अग्रवाल, किशन वीरू शंघाई, शिव प्रकाश लाटा, सुभाष रिटोलिया, दीपक रुइया, सुभाष राजगढ़िया आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran