बोकारो, जेएनएन। Corona in Bokaro News Update बोकारो में सीआइएसएफ (केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल) के चार जवानों में कोरोना का संक्रमण मिला है। वे लोग 13 मई को ओडिसा से मुंडली आए थे और क्वारंटाइन में थे। इनके अलावा जेनामोड़ के रहने वाले एक प्रवासी मजदूर भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। गुरुवार को आधी रात में पांच कोरोना मरीज पाये जाने के बाद प्रशासन हरकत में आ गया। सभी को बोकारो जनरल अस्पताल के कोविड वार्ड में इलाज के लिए भर्ती कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई।

चास की इलेवन सी कॉलोनी में रहने वाले चार सीआइएसएफ जवान कुछ दिन पहले ओडिसा के मुंडली में प्रशिक्षण पर गए। वहां से लाैटने के बाद बाद उन लोगों को क्वारंटाइन सेंटर में भेज दिया गया। इसी दौरान उन लोगों के स्वाब के नमूने लेकर जांच के लिए पीएमसीएच भेजा गया। गुरुवार को देर रात में पीएमसीएच प्रबंधन ने बोकारो के पांच लोगों में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि की। इसकी रिपोर्ट उपायुक्त एवं सिविल सर्जन को भेज दी गयी। सभी मरीजों के संपर्क में आने वाले लोगों को चिह्नित करने का काम शुरू कर दिया गया।

कोरोना पॉजिटिव हुए सीआइएसएफ जवानों को भेजा गया बीजीएच
कोरोना संक्रमण मुक्त हो चुके इस्पात नगरी बोकारो में गुरुवार को 5 नए मामले सामने आए हैं। इनमें से 4 केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवान हैं। ये13 मई को भुवनेश्वर-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन से बोकारो पहुंचे थे। 14 मई को सबका सैंपल लिया गया। इसके साथ ही सभी क्वॉरंटाइन सेंटर में रह रहे थे। बीती रात जैसे ही पॉजिटिव होने की सूचना मिली तो सभी को बोकारो जनरल अस्पताल स्थित कोविड वार्ड में शिफ्ट करा दिया गया। वहीं दोनों क्वारंटाइन सेंटर को सैनिटाइज करने का काम चल रहा है। सीआइएसएफ के छह जवान ओडि़सा के मुंडली स्थित बल के प्रशिक्षण केन्द्र में प्रशिक्षण लेने गए हुए थे।

ठीक एक माह के बाद फिर मिले कोरोना मरीजबोकारो में कोरोना के मरीज 20 अप्रैल को मिले थे। ठीक एक माह के बाद बोकारो में फिर कोरोना के पांच मरीज मिले हैं। अभी तक जिले में कोरोना के कुल 15 मरीज मिल चुके हैं। इनमें एक की मौत हुई है, तो नौ लोग स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं।

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस