जागरण संवाददाता, धनबाद : धनबाद में रहने वाले रेलवे कर्मचारियों के लिए रेलवे ने नई सुविधा की शुरुआत की है। यह सुविधा सिर्फ उन कर्मचारियों के लिए है, जो संक्रमित हैं और उनके घर पर खान-पान सुविधा में परेशानी हो रही है। ऐसे कर्मचारियों को सिर्फ एक कॉल करना होगा। उन्हें रेलवे की कैंटीन से सुबह का ब्रेकफास्ट, दोपहर का लंच और रात का डिनर सब कुछ घर पर ही मिल जाएगा।

कर्मचारियों के लिए रेलवे की ओर से शुरू की गई सुविधा बिल्कुल मुफ्त है। इसके लिए उन्हें कोई शुल्क नहीं चुकाना होगा। घर पर खान-पान सुविधा लेने के लिए संबंधित कर्मचारियों को कल्याण निरीक्षक को एक दिन पहले कॉल करना होगा। सुबह से शाम चार बजे तक कॉल करने की सुविधा दी गई है। जिस दिन कॉल करेंगे, उसके दूसरे दिन से घर पर खान-पान सेवा उपलब्ध करा दी जाएगी।

दरअसल, 15-20 दिन पहले ही पूर्व मध्य रेल महाप्रबंधक के साथ डीआरएम की वर्चुअल बैठक हुई थी। उस दौरान यह तय हुआ था कि कोरोना संक्रमित कर्मचारियों के लिए सामुदायिक किचन की व्यवस्था की जाए, ताकि संक्रमित कर्मचारियों को समय पर भोजन मिल जाए। महाप्रबंधक के सुझाव पर रेलवे ने कर्मचारी कल्याण कोष से खान-पान व्यवस्था लागू किया है। पहले चरण में सिर्फ धनबाद में निश्शुल्क खान-पान व्यवस्था बहाल की गई है। रेलवे धनबाद रेल मंडल के अन्य बड़े रेलवे स्टेशनों पर भी इसे लागू करने की तैयारी कर रही है। इनमें ऐसे स्टेशन शामिल होंगे, जहां कर्मचारियों की संख्या अधिक है और संक्रमित कर्मचारियों की संख्या भी ज्यादा है।

Edited By: Jagran