जागरण संवाददाता धनबाद : झारखंड एकेडमिक काउंसिल से मौका मिलने के बाद भी कॉलेजों की लापरवाही,, के कारण कई छात्र छात्राओं का मार्क अपलोड नहीं हो पाया है जिन छात्र-छात्राओं का मार्क अपलोड नहीं हो पाया है उनका रिजल्ट फसना अब तय है ऐसा माना जा रहा है कि इन छात्रों का इंटर रिजल्ट जारी नहीं होगा अब इन्हें अगली परीक्षा का इंतजार करना पड़ सकता है पीके राय कॉलेज के आधा दर्जन से अधिक छात्रों ने जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में शिकायत करते हुए कहा है कि उन लोगों का प्रैक्टिकल नहीं लिया गया हम लोग 26 जुलाई को कॉलेज गए थे। जैक बोर्ड की ओर से अंतिम तिथि 26 जुलाई निर्धारित थी पर कॉलेज प्रबंधन समय से पहले मार्क भेजकर हम लोगों का भविष्य अधर में ला दिया। कॉलेज ने 24 जुलाई की रात को भी ऑनलाइन मार्क सबमिट कर दिया कॉलेज की ओर से 26 जुलाई को तीन बजे जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में कागजात जमा किया गया है। छात्र या सवाल उठा रहे हैं कि जब 26 जुलाई अंतिम तिथि थी और कॉलेज की ओर से इसी दिन जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में कागज जमा किए गए हैं, तो ऑनलाइन सबमिट 24 जुलाई को क्यों किया गया। छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ करने के लिए कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई की जाए। वहीं दूसरी ओर कॉलेज प्रबंधन का कहना है कि छात्रों को फोन करके बुलाया गया था। छात्रों का आरोप गलत है। 26 जुलाई अंतिम तिथि थी इस कारण प्रक्रिया पूरी करने के लिए कॉलेज को भी समय चाहिए था। बताते चलें कि झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने इंटर प्रैक्टिकल तथा आंतरिक मूल्यांकन के छूटे हुए छात्रों का मार्क अपलोड करने के लिए 26 जुलाई तक का समय दिया था।

Edited By: Atul Singh