जागरण संवाददाता, धनबाद : 27 सितंबर को किसान संयुक्त मोर्चा ने भारत बंद का आह्वान किया है। देश के तमाम श्रमिक संगठनों ने जिसका संयोजक इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष डाक्टर जी संजीवा रेड्डी पूर्व सांसद के संयुक्त हस्ताक्षर से भारत बंद का पूर्ण समर्थन किया है। यह बातें राष्ट्रीय खान मजदूर फेडरेशन( इंटक) उपाध्यक्ष एके झा ने कहा। उन्होंने कहा कि इंटक सहित सभी श्रमिक संगठनों से हमारी अपील है कि वह किसानों के ज्वलंत सवालों पर जिस पर हमारे देश के किसान पिछले 10 माह से लगातार राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आदर्शों सिद्धांतों पर चलकर आंदोलन को मजबूती से चला रहे हैं।

उनकी आवाज को बुलंदी देने के लिए भारत की वर्तमान भाजपा सरकार जो मजदूर और किसान विरोधी सोच का पोषक है। पूंजीवादी शक्तियों का पूर्ण समर्थक है उनकी नींद तोड़ने के लिए लोकतांत्रिक तरीके से हम अपना जोरदार समर्थन शांतिपूर्ण ढंग से करके राष्ट्रहित में अपनी मजबूत भूमिका अदा करें।

राष्ट्रीय खान मजदूर फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुमार जय मंगल (अनूप सिंह) विधायक ने सभी संबद्ध श्रमिक संगठनों से अपील किया है कि डाक्टर जी संजीवा रेड्डी के निर्देश का अनुपालन करते हुए 27 सितंबर को भारत बंद का समर्थन करें ।

भाजपा सरकार के मजदूर विरोधी नीति खिलाफ आंदोलन

कोयला मजदूरों की समस्याओं,11वें वेज बोर्ड में इंटक की भागीदारी, भाजपा सरकार के मजदूर विरोधी नीति, किसान विरोधी नीति, रोजगार विरोधी नीति, महंगाई, बेरोजगारी ,गरीबी जैसे ज्वलंत सवालों पर समीक्षात्मक बैठक की जाएगी और आगे की रणनीति तय की जाएगी। ताकि कोयला मजदूरों की आवाज को एक नई ताकत, एक नई शक्ति, एक नया माहौल दिया जा सके।उनके अधिकार की रक्षा के लिए उनकी वेज बोर्ड में उचित सुविधा दिलाने के लिए मजबूती से सरकार पर दबाव डालने के लिए रणनीति तैयार किया जा सके।

Edited By: Atul Singh