जागरण संवाददाता, धनबाद: भ्रष्टाचार के मामले में आरपीएफ महानिदेशक अरुण कुमार द्वारा धनबाद रेल मंडल के वरीय मंडल सुरक्षा आयुक्त के उपर की गई कार्रवाई के बाद भी धनबाद स्टेशन में अवैध वसूली का खेल रुक नहीं रहा है। स्टेशन के दक्षिण छोर पर बिना निविदा के ही पिछले एक माह से मोटरसाइकिल खड़ी करने वालों से पार्किंग के नाम पर अवैध वसूली जारी है। 

बताते चलें कि करीब पार्किंग संचालन करने वाले के द्वारा रेलवे निविदा शर्तों के अनुरूप पैसों का भुगतान नहीं किया गया था। इस कारण वाणिज्य विभाग की ओर से टेंडर रद करते हुए पार्किंग बंद कर दी गई थी। कुछ दिनों तक तो पार्किंग बंद रही, लेकिन बाद में फिर से इसे अवैध रूप से चालू कर दिया गया। शुक्रवार को वरीय मंडल वाणिज्य प्रबंधक आशीष झा के निर्देश पर आरपीएफ धनबाद की टीम ने स्टेशन के दक्षिणी छोर पहुंची और अवैध पार्किंग को हटाने का काम किया। इससे पहले आरपीएफ टीम के पहुंचते ही पार्किंग राशि वसूल कर रहा युवक फरार हो गया। बताया जाता है कि दक्षिण छोर से स्टेशन आने वाले लोग को मोटरसाइकिल पार्किंग के एवज में पैसे तो लिए जाते थे, लेकिन उसकी रसीद नहीं दी जाती थी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Deepak Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप