जागरण संवाददाता, गोमो। पूर्व मध्य रेलवे के नेताजी सुभाष चंद्र बोस रेलवे स्टेशन गोमो पर आज ( 18 जनवरी)  नेताजी सुभाष चंद्र बोस की याद में महानिष्क्रमण दिवस मनाया जा रहा है। स्टेशन के प्लेटफार्म पर नेताजी की स्मृति स्थल पर लोग श्रद्धांजलि दे रहे हैं। इससे पहले रात बारह बजे के बाद गोमो स्टेशन पर हावड़ा-कालका नेताजी एक्सप्रेस के पहुंचने पर उसके चालकों, गार्ड और कर्मचारियों को बुके देकर सम्मानित किया गया। गोमो चेंबर की तरफ से ट्रेन के डिब्बों पर नेताजी की याद में पोस्टर चिपकाया गया।

कालका मेल पर सवार होकर पेशवार रवाना हुए थे नेताजी

नेताजी सुभाष चंद्र बोस 18 जनवरी, 1941 को धनबाद के गोमो रेलवे स्टेशन से कालका मेल पर सवार होकर पेशावर के लिए रवाना हुए थे। इसके बाद वह रहस्यम ढंग से गुम हो गए। इस ऐतिहासिक घटना पर नेताजी की याद में हर साल 18 जनवरी को गोमो रेलवे स्टेशन पर महानिष्क्रमण दिवस मनाया जाता है। इस साल भी मनाया जा रहा है। गोमो चेंबर और स्थानीय लोगों ने कालका मेल ( अब नेताजी एक्सप्रेस) के चालक, गार्ड और कर्मचारियों को सम्मानित किया। द चेम्बर्स आफ कामर्स, व अन्य संगठनों द्वारा पुरे गर्म जोशी के साथ नेताजी एक्सप्रेस ( कालका मेल)  का स्वागत किया।

नेताजी एक्सप्रेस के पहुंचते ही 'सुभाष चंद्र बोस अमर रहे' के नारों से गूंजा स्टेशन

नेताजी एक्सप्रेस के गोमो पहुंचे ही नारों व जयकारे से स्टेशन परिसर गूंज उठा। जिसके बाद ट्रेन के चालक एमके इकबाल, सहचालक, गार्ड एमएल पासवान, डीके पासवान, स्टेशन मास्टर लुगून व अन्य रेल कर्मी को माला पहनाकर स्वागत किया गया। उपहार देकर सम्मानित किया गया। पूरे ट्रेन के डिब्बों में नेताजी के गोमो से जुड़े घटनाक्रमों का पोस्टर चस्पा किया। मौके पर द चेम्बर आफ कामर्स के अघ्यक्ष धीरज कुमार, अनिल वर्णवाल, विशाल अग्रवाल, दिपाकर दे, गोमो दक्षिण पंचायत प्रघान राजेन्द्र सिंह, भाजपा के सुनील मंडल, विद्यानंद यादव, मो फिरोज, महेंद्र कुमार आदि माैजूद थे।

Edited By: Mritunjay